गली-गली में कचरा डंप, स्वच्छता अभियान महज दिखावा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, September 23, 2022

गली-गली में कचरा डंप, स्वच्छता अभियान महज दिखावा

सड़क किनारे लगे कूढ़े के ढेर अभियान की सच्चाई कर रहे बयां 

बबेरू, के एस दुबे । कस्बे पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में चलाए जा रहे सेवा पखवाड़े अभियान के तहत मंगलवार को स्वच्छता अभियान का कार्य नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी एवं बनाए गए हर वार्ड के नोडल अधिकारी के द्वारा किया गया। इसमें नगर पंचायत के सफाई कर्मी व ग्रामीण क्षेत्र के सफाई कर्मियों को बुलाकर नगर की सफाई करवाने पर अधिकारी जुटे हुए हैं। लेकिन जिस जगह सफाई होना चाहिए उस जगह सफाई नहीं की गई। सड़क किनारे लगे कूड़े के ढेर सफाई अभियान की हकीकत खुद बयां कर रहे हैं। नालियों का पानी सड़कों में भरा हुआ है। वहीं अधिकारी इस स्वच्छता अभियान को देखते हुए फोटो खिंचवाते दिखाई दे रहे हैं। जमीनी स्तर पर देखा जाए तो नगर में महीनों से सफाई नहीं की जा रही है।

कस्बे के सड़क पर लगे कचरे के ढेर

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के तहत चलाए जा रहे सेवा पखवाड़े के तहत मंगलवार को स्वच्छता अभियान चलाया गया है, जिसमें नगर पंचायत के सभी वार्डों में नोडल अधिकारी बनाए गए, जिसमें सफाई कर्मचारियों को लेकर अभियान के तहत सफाई करवा रहे हैं। वहीं नगर वासियों का कहना है कि जितने अधिकारी आये है, सब झाड़ू लेकर सफाई अभियान पर डटे हुए हैं। लेकिन जहां पर झाड़ू लगाना चाहिए वहां पर झाड़ू नहीं लगाई गई। साफ स्वच्छ जगह पर झाड़ू लगा कर फोटो खिंचवाने पर व्यस्त रहे। वहीं नगर के कई मुहल्ले पर लगे कूड़े के ढेर बयां कर रहे हैं कि नगर में किस तरह से सफाई होती है। वहीं नगर के कई सभासदों के द्वारा बताया गया कि नगर में साफ सफाई नहीं की जाती है। महीनों सफाई कर्मी नहीं आता है, जिसकी शिकायत नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी रामबदन यादव से की जाती है, लेकिन वह अनसुना कर देते हैं और अब स्वच्छता अभियान के तहत स्वयं झाड़ू लेकर फोटो खिंचवाने पर व्यस्त हैं। ऐसे में इस तरह के अधिकारियों के द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना क्या स्वच्छता अभियान के तहत पूरा होगा, यह तो देखने वाली बात होगी। लेकिन नोडल अधिकारी से नगरवासियों ने खुले शब्दों में कहा है कि कस्बे में सफाई महीनों से नहीं होती। कस्बे की नालियां गंदगी से पटी हुई हैं। सड़कों पर कूड़ा फैल रहा है। वहीं प्रभाकर नगर पर महर्षि विद्यापीठ बालिका इंटर कालेज विद्यालय भी हैं, जिसमें वहां पर छात्रों को निकलने में गंदगी का सामना करना पड़ रहा है, जिससे छात्राएं बीमार पड़ रही हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages