जंगल में आने वाले गांवों का कराएं सर्वे : डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, September 6, 2022

जंगल में आने वाले गांवों का कराएं सर्वे : डीएम

टाइगर रिजर्ब संबंधी हुई बैठक, गिदुरहा गेस्ट हाउस, ऐलहा वाच टावर का किया निरीक्षण

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। रानीपुर वन्य जीव बिहार को टाइगर रिजर्व बनाने के लिए मंगलवार को जिलाधिकारी अभिषेक आनन्द व मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी ने भ्रमण कर बरदहा नदी के तट पर रानीपुर गिदुरहा क्षेत्र में बैठक संबंधित अधिकारियों के साथ की।

बैठक में प्रभागीय वनाधिकारी आरके दीक्षित ने बताया कि 52 हजार हेक्टेयर भूमि पर टाइगर रिजर्व क्षेत्र होगा। इसमें जहां से वन क्षेत्र शुरू होगा वहां के मार्गों पर मुख्य गेट बनाए जाएंगे। इस पर जिलाधिकारी ने प्रभागीय वनाधिकारी कहा कि लोक निर्माण विभाग से मिलकर एप्रोच रोड  व दूसरा रोड नाले से रोड का स्टीमेट बनाकर भेज दे। उन्होंने कहा कि सफारी के लिए रोड चिन्हित करना पड़ेगा। यह टाइगर रिजर्व पन्ना से सटा हुआ है। नाला व मारकुंडी के पास जमीन का सर्वे कराना होगा। जिससे वहां गेट व सरकारी रिसार्ट भी बनाए जा सकें। उन्होंने उप जिलाधिकारी मानिकपुर को निर्देशित किया कि जो पांच गांव जंगल में आ रहे हैं उनका सर्वे कराएं। उन्होंने कहा

निरीक्षण करते डीएम।

कि विद्युत व्यवस्था, एप्रोच रोड होनी चाहिए। इसके साथ ही कच्ची रोड भी बनाए जाएंगे। उन्होंने अधिशासी अभियंता विद्युत से कहा कि विद्युत व्यवस्था का प्रस्ताव तैयार करें। टूरिज्म को अपनी फोटो खींचने के लिए एक अच्छा प्वाइंट बनाना होगा। उन्होंने अधिशासी अभियंता सिंचाई विभाग से कहा कि चेकडैम बनाना होगा। जिससे जगह-जगह पानी को रोका जा सके। पब्लिक टॉयलेट, बाउंड्रीवाल भी बनाना होगा। उन्होंने कहा कि जो पांच गांवों का सर्वे हो गया है उस गांव में से किसी को ड्राइवर, गाइड करने आदि कार्यों में प्रशिक्षण देकर लगा दिया जाए। जिससे उनके आय में वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि एक बड़ा नक्शा मुख्यालय में भी लगाया जाएगा। जिससे पता चले कि कहां पर जाना है। उन्होंने कहा कि मोबाइल नेटवर्क, गेस्ट हाउस, गोलहट्ट कोर एरिया का भी निर्माण करना होगा। तत्पश्चात उन्होंने वन विभाग के गिदुरहा गेस्ट हाउस, ऐलहा वाच टावर का भी निरीक्षण किया। इस अवसर पर एसडीएम मानिकपुर प्रमेश श्रीवास्तव, सीओ मऊ शीतला प्रसाद पांडेय, एक्सईएन सिंचाई आशुतोष कुमार, एक्सईएन विद्युत आरएस वर्मा, उप प्रभागीय वन अधिकारी हरिशंकर सिंह आदि संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages