विद्यालय में लटकता ताला, बच्चों का भविष्य अंधकारमय - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, September 21, 2022

विद्यालय में लटकता ताला, बच्चों का भविष्य अंधकारमय

प्रधानाध्यापक भी कभी विद्यालय में नजर नहीं आते 

कमासिन, के एस दुबे । विकासखंड कमासिन के ग्राम पंचायत बीरा में स्थित कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय हमेशा बंद रहता है। वहां तीन अध्यापक नियुक्त हैं जो कभी नहीं आते। जिसमें एक प्रधानाध्यापक और दो अनुदेशक हैं। कभी भी तीनों अध्यापक एक साथ विद्यालय में उपस्थित नहीं मिलेंगे। ग्रामीणों की माने तो कभी कभार एक अनुदेशक उपस्थित होता है और कागजी खानापूरी कर चला जाता हैं। बच्चे समय से आते जरूर हैं लेकिन ताला बंद होने के कारण वापस चले जाते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि कभी अधिकारी आए तो उनसे शिकायत की जाती है

विद्यालय के बाहर खड़े ग्रामीण

और बच्चों के भविष्य को लेकर कहा जाता है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होती। बच्चों का भविष्य पूरी तरह अंधकारमय हो रहा है। अनुदेशक जब कभी मिलते भी हैं, तो उनसे कहा जाता है कि विद्यालय क्यों नहीं खोलते हैं, इसपर उनका कहना होता है कि 7 हजार रुपए में उनका पूरा नहीं पड़ता, वह क्या करें। इसीलिए विद्यालय नहीं आते। मिड-डे-मील विद्यालय में कभी नहीं बनता, लेकिन बताते हैं कागजों में सब कुछ दुरुस्त मिलेगा। विभाग द्वारा इस पर ध्यान नहीं दिया गया तो पढ़ने वाले बच्चों का भविष्य पूरी तरह से अंधकार मय हो जाएगा। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages