रासलीला का मंचन देख दर्शक हुए मंत्रमुग्ध - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, September 4, 2022

रासलीला का मंचन देख दर्शक हुए मंत्रमुग्ध

वर्ष 1914 से प्रतिवर्ष जयदेवदास अखाड़ा में होता है आयोजन

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। मुख्यालय के जयदेवदास अखाड़ा में रासलीला के 106वें महोत्सव में वृंदावन के कलाकारों ने भगवान श्रीकृष्ण के माखन चोरी लीला का मंचन किया। जिसे देख दर्शक मंत्रमुग्ध रहे।

तरौंहा स्थित जयदेवदास अखाड़ा में 106वां रासलीला का मंचन बीती 29 अगस्त से शुरू है। जिसमें कृष्ण जन्म लीला, नंद महोत्सव, पूतना वध, नामकरण, ओखल बंधन, शंकर लीला, सूरचरित्र, श्याम सगाई के मनोहारी दृश्यों के सा कलाकारों ने भव्य मंचन किया। रविवार को भगवान श्रीकृष्ण के माखन चोरी की प्रस्तुति देख दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए। भक्तिमय माहौल में चल रही रासलीला में भारी तादाद मं दर्शक उमड़े। मंचन के अनुसार जब प्रभु श्रीकृष्ण बालपन में माखन चोरी कर खा रहे थे तभी मां यशोदा ने उन्हे देख लिया। इस पर श्रीकृष्ण भागने लगे और मां यशोदा पीछे-पीछे पकड़ने के लिए दौड़ी। थकने पर श्रीकृष्ण ने खुद को पकड़ा दिया। मां यशोदा ने उन्हे ओखली से बांध दिया। इस दौरान गोपियों ने श्रीकृष्ण को खूब रिझाया। इसके बाद भगवान ने अपनी लीला शुरू

मंचन करते कलाकार।

कर ओखली को उखाड़ कर बंधन से मुक्त हुए। यह देख सभी चकित हो गए। महंत रामशरण दास ने बताया कि पूज्यपाद साकेतवासी महंत जयदेवदास महाराज आजादी के पूर्व 1914 से रासलीला का आयोजन शुरू किया था। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में प्रतिवर्ष रासलीला का आयोजन किया जाता है। वृंदावन के कलाकारों की इसमें अहम भूमिका है। रासलीला अपरान्ह तीन से सायं साढ़े छह बजे तक होती है। 12 सितम्बर तक आयोजन किया जाएगा। इस मौके पर रमाशंकर दास, राष्ट्रीय रामायण मेला के अध्यक्ष राजेश करवरिया, महामंत्री करुणा शंकर द्विवेदी, सह प्रबंधक अंबिका प्रसाद द्विवेदी, व्यासाचार्य पं कैलाशचन्द्र शर्मा, शिवमंगल शास्त्री, मनोज गर्ग, प्राचार्य मनोज कुमार द्विवेदी, आचार्य संतोष कुमार यादव, विजय कुमार पयासी, सुरेश कुमार गर्ग, शिव कुमार गर्ग आदि दर्शकगण मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages