बांदा-सागर मार्ग के फुटपाथ पर कबाड़ियों ने जमाया डेरा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, September 19, 2022

बांदा-सागर मार्ग के फुटपाथ पर कबाड़ियों ने जमाया डेरा

अतिक्रमण के चलते आए दिन लगा रहता जाम 

मार्ग दुर्घटनाएं होने से चुटहिल हो रहे वाहन सवार

जिला एवं पुलिस प्रशासन बेलगाम कबाड़ियों पर अंकुश लगाने में नाकाम

फतेहपुर, शमशाद खान । प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की सत्ता दोबारा संभालने के बाद निर्देश जारी किए थे कि प्रमुख मार्गों के फुटपाथ पर किसी तरह का अतिक्रमण नहीं होना चाहिए। अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए। इसके बावजूद बांदा-सागर मार्ग के फुटपाथ पर इन दिनों कबाड़ियों ने डेरा जमा रखा है। खुलेआम अतिक्रमण करके मार्ग को सकरा कर दिया है। अतिक्रमण के चलते आए दिन इस मार्ग पर जहां जाम लगा रहता है वहीं मार्ग दुर्घटनाओं में भी इजाफा हो रहा है। जिला एवं पुलिस प्रशासन बेलगाम कबाड़ियों पर अंकुश लगाने में नाकाम है। जिससे स्थानीय लोगों में नाराजगी व्याप्त है। 

बांदा-सागर मार्ग के फुटपाथ पर कबाड़ियों द्वारा किए गए अतिक्रमण का दृश्य।

बताते चलें कि शहर क्षेत्र के बांदा-सागर मार्ग पर वर्मा चौराहे के पहले कबाड़ी मार्केट संचालित होती है। इस मार्ग के दोनों तरफ फुटपाथ पर कबाड़ियों ने अपना डेरा जमा रखा है। फुटपाथ पर ही वह अपना सारा कबाड़ रखने के साथ-साथ खटारा वाहनों को भी खड़ा करने का काम करते हैं। जिससे पूरा दिन इस मार्ग का फुटपाथ बाधित रहता है। जबकि फुटपाथ पैदल व साइकिल से यात्रा करने वालों के लिए होता है। नियमों के विपरीत कबाड़ी फुटपाथ पर डेरा जमाए हैं। कबाड़ियों द्वारा किया गया अतिक्रमण किसी से छिपा नहीं है। खुलेआम जिला एवं पुलिस प्रशासन को कबाड़ी खुली चुनौती दे रहे हैं इसके बावजूद इन पर आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिससे उनके हौसले बुलंद हैं। मार्ग पर फैले अतिक्रमण के चलते प्रतिदिन इस स्थान पर जाम की स्थिति भी बनी रहती है। बड़े वाहनों के साथ-साथ दो पहिया एवं चार पहिया वाहनों का संचालन अधिक संख्या में इस मार्ग पर होता है। कभी-कभी कई घंटे मार्ग अवरूद्ध रहता है। जिससे वाहन चालकों को अपने गन्तव्य पर जाने के लिए घंटों इतजार भी करना पड़ता है। फुटपाथ पर अतिक्रमण के चलते पैदल यात्रियों को निकलने में भी दुश्वारियों का सामना करना पड़ता है। यदि कोई वाहन सवार कबाड़ संचालक से अपना कबाड़ हटाने की बात करता है तो ये बेलगाम कबाड़ी झगड़े पर भी अमादा हो जाते हैं और एकजुटता दिखाकर वाहन चालक के साथ अभद्रता भी करते हैं। इतना सबकुछ होने के बावजूद पुलिस एवं प्रशासन को यह सब नहीं दिखाई दे रहा है। कबाड़ियों पर कार्रवाई न होने से स्थानीय लोगां में भी नाराजगी व्याप्त है। लोगों का कहना है कि जिला एवं पुलिस प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाकर इन कबाड़ियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। जिससे भविष्य में इस मार्ग पर दोबारा अतिक्रमण न हो। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages