राज्य शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित हुए जिले के तीन शिक्षक - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, September 5, 2022

राज्य शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित हुए जिले के तीन शिक्षक

शिक्षक दिवस पर सर्वपल्ली डा. राधाकृष्णन के चित्र पर किया माल्यार्पण

शिक्षक राष्ट्र निर्माण का करते कार्य, उनका दर्जा सर्वोच्च

फतेहपुर, शमशाद खान । शिक्षक दिवस पर विकास भवन सभागार में भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिले के तीन शिक्षकों को राज्य शिक्षक पुरस्कार से नवाजा गया। जिससे उनकी खुशी का ठिकाना न रहा। जनप्रतिनिधियों ने शिक्षकों को राष्ट्र निर्माण का कर्ता-धर्ता बताया। उनके दर्जे को भी सर्वोच्च बताते हुए शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं दी। 

शिक्षिका को राज्य पुरस्कार देतीं विधायक कृष्णा पासवान व राजेंद्र सिंह पटेल।

शिक्षक दिवस पर लोकभवन लखनऊ में मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यानाथ के कार्यक्रम का विकास भवन सभागार में सजीव प्रसारण देखा व सुना गया। कार्यक्रम का खागा विधायककृष्णा पासवान, जहानाबाद विधायक राजेन्द्र सिंह पटेल, एमएलसी अवनीश सिंह चौहान, मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश ने मां सरस्वती की प्रतिमा व डॉ0 सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ किया। विद्यालय की छात्राओंने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। देवमई विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय मुरारपुर की शिक्षिका गीता यादव, बहुआ विकास खंड के कम्पोजिट विद्यालय के एसआरजी राधेश्याम दीक्षित व ऐरायां विकास खंड के कम्पोजिट विद्यालय धनकामई के एआरपी अजय कुमार सिंह को राज्य शिक्षक पुरस्कार के रूप में मां सरस्वती जी की प्रतिमा व अंगवस्त्र देकर विधायककृष्णा पासवान, जहानाबाद विधायक राजेन्द्र सिंह पटेल, एमएलसी अवनीश सिंह चौहान, मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश ने सम्मानित किया। विधायककृष्णा पासवान ने डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन को नमन करते हुए शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि आज का दिन अत्यंत महत्वपूर्ण है, शिक्षक राष्ट्र निर्माण का कार्य करते हैं, उनका दर्जा सर्वाच्च है। सभी के द्वारा पूरी ईमानदारी व निष्ठा के साथ अपने कार्य को संपादित कर अपने स्कूल, कॉलेज व समाज को आगे ले जाने में अपनी भूमिका का निर्वहन करें। देश के प्रधानमंत्री व प्रदेश के मुख्यमंत्री हर वर्ग के नागरिकों को शिक्षा देने के लिए निरंतर प्रयास कर रहे हैं। उनके सपने को साकार करने के लिए अपने कर्तव्यों का पालन ईमानदारी से करते हुए छात्रों का भविष्य संवारे क्योंकि शिक्षा से सर्वागीण विकास संभव है। कार्यक्रम को अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी संबोधित किया। इस मौके पर डायट प्राचार्य, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुशवाहा सहित शिक्षक व शिक्षिकाएं उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages