कृषि के विकास में विश्वविद्यालय का सराहनीय प्रयास : डिप्टी सीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, September 11, 2022

कृषि के विकास में विश्वविद्यालय का सराहनीय प्रयास : डिप्टी सीएम

सूबे के उप मुख्यमंत्री ने किया विश्वविद्यालय का भ्रमण 

बांदा, के एस दुबे । कृषि विश्वविद्यालय कृषि की विभिन्न तकनीकियों के माध्यम से बुन्देलखण्ड में कृषि के विकास में सराहनीय कार्य कर रहा है। विश्वविद्यालय के कुलपति के निर्देशन में वैज्ञानिकों के द्वारा कृषकों के लिए विभिन्न तकनीकियों का प्रदर्शन फलदायी है। एकीकृत कृषि प्रणाली छोटे जोत के कृषकों के लिए आय बढ़ाने का उत्तम साधन है। बुन्देलखण्ड परिक्षेत्र में औद्यानिकी व वानिकी फसलों का महत्व ज्यादा है। बांस एवं अन्य वानिकी महत्व के पौधों से तैयार किये गये उत्पाद से रोजगार की संभावनाएं विकसित की जा सकती है। प्याज एवं लहसुन पैदा करने वाले कृषक अगर एक साथ कम लागत के भण्डार गृह बनाकर प्याज और लहसुन कुछ समय के लिए भण्डारित करते हैं तो इससे उत्पाद का बाजार मूल्य अधिक प्राप्त कर सकते हैं। यह बात प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कृषि विश्वविद्यालय भ्रमण के दौरान कही। 

कृषि विश्वविद्यालय में लहसुन प्याज उत्पाद देखते डिप्टी सीएम केशव मौर्य

विश्वविद्यालय के कुलसचिव डा. एसके सिंह के नेतृत्व में उप मुख्यमंत्री का विश्वविद्यालय परिसर में स्वागत एवं अभिनंदन किया गया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के निदेशक प्रशासन एवं अनुश्रवण, डा. बीके सिंह, वित्त नियंत्रक, डा. अजीत कुमार सिंह, अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय, डा. जीएस पवांर, अधिष्ठाता उद्यान महाविद्यालय, डा. एसवी द्विवेदी, अधिष्ठाता वानिकी महाविद्यालय, डा. संजीव कुमार उपस्थित रहे। भ्रमण के दौरान संरक्षित खेती एवं प्याज और लहसुन हेतु कम लागत वाले भण्डार गृह के बारे में विस्तृत जानकारी, सब्जी विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष एवं प्राध्यापक डा. आरके सिंह ने, एकीकृत कृषि प्रणाली मॉडल के भ्रमण के दौरान अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय डा. जीएस पवांर तथा शस्य विज्ञान के विभागाध्यक्ष डा. नरेन्द्र सिंह ने विस्तार से जानकारी दी। वानिकी महाविद्यालय के अधिष्ठाता डा. संजीव कुमार एवं डा. भालेन्द्र सिंह राजपूत ने वानिकी महाविद्यालय में चल रही विभिन्न गतिविधियों के बारे में माननीय उप मुख्यमंत्री को विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान सांसदगण, माननीय विधायकगण, जिलाध्यक्ष, भाजपा एवं जिले के अन्य जन प्रतिनिधि एवं गणमान्य लोगों के साथ-साथ विश्वविद्यालय के अधिकारी, प्राध्यापक एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages