बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण के लिए बुंकियू ने लिखा खूनी खत - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, September 16, 2022

बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण के लिए बुंकियू ने लिखा खूनी खत

पीएम को खूनी खत लिखकर पृथक बुंदेलखण्ड राज्य बनाये जाने की मांग

बांदा, के एस दुबे । बुंदेलखंड राज्य के लिए बरसों से संघर्ष कर रहे बुंदेलखंड राष्ट्र समिति व बुंदेलखंड किसान यूनियन के युवाओं ने शुक्रवार को चित्रकूट धाम मंडल मुख्यालय बांदा के अशोक लाट चौराहे पर प्रदर्शन करते हुए खून से पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 1 दिन पहले जन्मदिन की बधाई दी। साथ ही पृथक बुंदेलखंड राज्य बनाने की मांग दोहराई। प्रदर्शनकारी बुंदेलियों ने चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी जाती हैं तो 50,000 बुंदेलखंडी संसद का घेराव करेंगे।


बुंदेलखंड राष्ट्र समिति के प्रमुख डालचंद मिश्रा के नेतृत्व में शुक्रवार को विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ता अशोक लाट चौराहे पर प्रदर्शन करते हुए सभी कार्यकर्ताओं ने अपने खून से पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जन्मदिन के 1 दिन पहले बधाई दी और पृथक बुंदेलखंड राज्य की मांग की। इस मौके पर डालचंद मिश्रा ने कहा कि चाहे 2014 का लोकसभा चुनाव हो या 2019 का लोकसभा चुनाव हो। प्रधानमंत्री ने बुंदेलखंड को अलग राज्य का दर्जा दिलाए जाने का वादा किया था इतना ही नहीं पार्टी की फायर ब्रांड नेता उमा भारती ने तो बुंदेलखंड  को राज्य बनाने की मांग का समर्थन करते हुए इसे राज्य बनवाने का संकल्प लिया था।

लेकिन अब पार्टी और पार्टी के नेता अपना वादा नहीं निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम अब इस लड़ाई को लड़ने के लिए सड़क पर उतर आए हैं। अगर हमारी मांगों की ओर ध्यान नहीं दिया गया तो हम 50,000 बुंदेलखंडी देश की राजधानी दिल्ली में जाकर संसद भवन का घेराव करेंगे और अपना हक मांगेंगे । इसी तरह संगठन के कार्यकर्ता पीसी पटेल जनसेवक ने कहा कि इस मांग को लेकर लंबे अरसे से लड़ाई जारी है और हमारे शरीर में जब तक खून की एक बूंद है। तब तक लड़ाई जारी रहेगी। इसी क्रम में किसान यूनियन युवा मोर्चा के पदाधिकारी मनीष तिवारी ने भी बुंदेलखंड राज्य की लड़ाई को और तेज करने का संकल्प दोहराया है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages