नवनियुक्त भाकियू प्रदेश उपाध्यक्ष का किसानों ने किया स्वागत - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, September 1, 2022

नवनियुक्त भाकियू प्रदेश उपाध्यक्ष का किसानों ने किया स्वागत

मलवां ब्लाक परिसर की पंचायत में किसानों ने भरी हुंकार

फतेहपुर, शमशाद खान । भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट के वरिष्ठ नेता राजेंद्र सिंह के संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष बनने के बाद प्रथम बैठक आगमन पर किसानों ने फूल-मालाओं से लादकर जमकर स्वागत किया। इस दौरान किसान पंचायत में किसानों ने अपनी समस्याओ के समाधान के लिये सरकार को जमकर ललकारा।

गुरुवार को मलवां ब्लाक परिसर में भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट की बैठक आयोजित की गई। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में सगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह रहे। भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश टिकैत द्वारा संगठन के विभिन्न पदों पर रह चुके जनपद के किसान नेता राजेंद्र सिंह को संगठन का प्रदेश उपाध्यक्ष बनाए जाने के बाद प्रथम आगमन होने पर संगठन के पदाधिकारियों एवं किसानो ने नवनियुक्त प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह का फूल-मालाओं से लादकर जमकर स्वागत किया। बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने कहा

किसान पंचायत को संबोधित करते प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह।

कि किसानों की समस्याओं पर केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा ध्यान नहीं न देकर उत्पीड़न किया जा रहा है। जर्जर विद्युत तारों एवं किसानों के नलकूपों के जले हुए ट्रांसफार्मर को बदलवाने के लिये किसानों को बार-बार अफसरों के पास दौड़ लगाने के बाद भी समाधान नहीं मिल रहा है। वहीं किसानों के ऊपर लगने वाले झूठे मुकदमों पर उन्होंने आक्रोश जाहिर करते हुए कहाकि किसानों के उत्पीड़न को लेकर भाकियू चुप बैठने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों की उपज को एमएसपी बस खरीदने के लिये एमएसपी कमेटी बनाये जाने के प्रति गंभीर नहीं दिखाई देती। उन्होने किसानों की समस्याओ के लिये बाबा टिकैत के संघर्षशील रास्ता अपनाए जाने व राकेश टिकैत के हाथों को मज़बूत किये जाने का आह्वान किया। इस मौके पर वीरेंद्र सिंह पटेल, अशोक उत्तम, राम सहाय पटेल, नवल सिंह पटेल, दिनेश शुक्ला, नागेंद्रसिंह यादव, देव नारायण पटेल, कप्तान सिंह यादव, नागेंद्र पटेल, मुन्ना शेख, जितेंद्र त्रिपाठी, अखिलेश सिंह, रघुनंदन सिंह समेत बड़ी संख्या में किसान मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages