संचालित कराएं विद्यालयों की बायोमैट्रिक मशीन : डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, August 2, 2022

संचालित कराएं विद्यालयों की बायोमैट्रिक मशीन : डीएम

छात्रवृत्ति संबंधी बैठक में दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी अभिषेक आनन्द की अध्यक्षता में वित्तीय वर्ष 2022-23 में पूर्व दशम, दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत जारी समय सारणी के अनुसार छात्र, छात्राओं के बायोमेट्रिक उपस्थिति, मास्टर डाटा अपडेशन, आनलाइन आवेदन की स्थिति से संबंधित बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।

जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक व जिला समाज कल्याण अधिकारी से कहा कि सभी प्रधानाचार्यो को एक पत्र भेजें कि छात्र, छात्राएं जो ऑनलाइन छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर रहे हैं उसकी एक प्रति विद्यालयों में जमा कराएं। प्रधानाचार्यो से भी प्रमाण पत्र ले कि इतने बच्चों ने आवेदन किया है और वह सही है। उन्होंने कहा कि वेबसाइट सही नहीं चल रही थी। इसके लिए शासन को पत्र भेजा गया है। अब वेबसाइट में किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होगी। जिला समाज कल्याण अधिकारी से कहा कि विद्यालयों में जो गत वर्ष बच्चों को छात्रवृत्ति मिली

बैठक में निर्देश देते डीएम।

थी उसकी सूची विद्यालयों को उपलब्ध करा दें। उन्होंने प्रधानाचार्यो से कहा कि विद्यालयों का बायोमेट्रिक मशीनें संचालित कराएं। उपस्थिति शत प्रतिशत दर्ज हो। सभी बायोमेट्रिक लगाने का प्रमाण पत्र भी दें। जिन विद्यालयों में नहीं लगा है तो उसे जिला विद्यालय निरीक्षक चेक करें। जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराज राम ने प्रधानाचार्यो से कहा कि कन्या सुमंगला योजना में प्रगति लाएं। इसमें प्रगति बहुत धीमी है। शासन की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ छात्र-छात्राओं को दिलाया जाए।

जिला समाज कल्याण अधिकारी ज्ञानेंद्र सिंह भदौरिया ने बताया कि शासन से कक्षा 9 व 10 के छात्रवृत्ति योजनान्तर्गत विद्यालय मे मास्टर डाटाबेस में सम्मिलित होने के लिये आनलाइन आवेदन किए जाने की अंतिम तिथि 16 अगस्त व द्वितीय चरण की अंतिम तिथि सात अक्टूबर, कक्षा 11 व 12 एवं अन्य दशमोत्तर कक्षाओं के लिए संस्थाओं को मास्टर डाटा में अपनी संस्था से संबंधित समस्त सूचनाओं को भरकर डिजिटल हस्ताक्षर से लॉक किया जाने की अंतिम तिथि 22 अगस्त, द्वितीय चरण की अंतिम तिथि सात नवम्बर है। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी यशवंत मौर्य ने बताया कि अल्पसंख्यक छात्रों के लिए दो छात्रवृत्ति मिलती है। जिसमें केन्द्र व राज्य सरकार से दिया जाता है। जिसमें पूर्व दशम व दशमोत्तर में अगर छात्रों को भारत सरकार की छात्रवृत्ति गत वर्ष मिली है तो भारत सरकार में ही आवेदन कराएं। अगर राज्य सरकार से प्राप्त हुई है तो राज्य सरकार पर करें। दोनों योजनाओं पर आवेदन नहीं कराना है। जिन छात्र, छात्राओं का खाता आधार से लिंक है उन्हीं बैंक खातों के खाता नंबर ही आवेदन में भराए जाएं। बैठक में जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी श्यामसुंदर इकनोरिया आदि मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages