अभी जीवित है ईमानदारी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, August 6, 2022

अभी जीवित है ईमानदारी

बांदा. के एस दुबे - स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की कचहरी परिसर स्थित मुख्य ब्रांच ने आज एक अनूठी मिसाल पेश कर साबित कर दिया कि ईमानदारी अब भी जीवित है। मामला कुछ इस तरह से हुआ कि आज दोपहर में जिला उपभोक्ता संरक्षण आयोग के वरिष्ठ सदस्य अनिल कुमार चतुर्वेदी अपने व्यक्तिगत कार्य से स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में प्रबंधक से मिलने गए थे। इसी दौरान श्री चतुर्वेदी जी के 5500 रूपये गिर गए। जब शाम पांच बजे रुपए खो जाने


की पुष्टि वरिष्ठ सदस्य को हुई तो उन्होंने ब्रांच में मुख्य प्रबंधक से फोन पर रुपए गिरने की बात बताई। मुख्य प्रबंधक ने जिला उपभोक्ता संरक्षण आयोग के न्यायिक सदस्य को फोन पर ही अश्स्वत किया किया की उनकी ब्रांच में 5500रुपए गार्ड को मिले हैं, जिसे गार्ड ने जमा कर दिया है। आप खुद आकर अपने गिरे हुए रुपए जो बंद लिफाफे में रखे हैं। मुख्य प्रबंधक ने वरिष्ठ सदस्य अनिल कुमार चतुर्वेदी को गिरे हुए 5500रुपए देकर ब्रांच की ईमानदारी की मिशाल पेश किया। श्री चतुर्वेदी ने बैंक प्रबंधक का  आभार जताया ...

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages