आर्थिक आत्मनिर्भरता के लिए कार्य का सम्मान जरूरी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, August 28, 2022

आर्थिक आत्मनिर्भरता के लिए कार्य का सम्मान जरूरी

विशेष सचिव गृह विभाग उत्तर प्रदेश, विवेक ने किया बुविवि के छात्रों को संबोधित

आईआईसी एवं महिला अध्ययन केंद्र ने संयुक्त रूप से किया आयोजन

रिपोर्ट देवेश प्रताप सिंह राठौर


झांसी। बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के इंस्टीट्यूशन इन्नोवेशन काउंसिल और महिला अध्ययन केंद्र द्वारा उद्यमिता एवं नवाचार विषय पर एक दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन गांधी सभागार में किया गया। इस अवसर पर विशेष सचिव गृह विभाग उत्तर प्रदेश शासन, विवेक ने कहा कि जिज्ञासा शिक्षा के लिए महत्वपूर्ण है। इसके साथ ही वैचारिक


स्तर पर चेतना एवं स्वभाव में  विनम्रता ऐसे गुण हैं जिससे छात्र समाज में अपनी उपयोगिता सिद्ध कर सकता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में पूर्व कालिक वर्ण व्यवस्था की  जगह वर्ग व्यवस्था ने ले ली है। वर्गीय  मानसिकता को बदलने के लिए प्रत्येक कार्य को सम्मान पूर्वक रूप से देखना होगा। उन्होंने सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करने

वाले छात्रों को कई महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान की। स्वागत उद्बोधन महिला अध्ययन केंद्र की संयोजक डॉ अचला पांडे एवं विषय की प्रस्तावना प्रोफेसर डी के भट्ट ने रखी। इसके साथ ही कुलसचिव विनय कुमार सिंह, परीक्षा नियंत्रक राजबहादुर, आईआईसी संयोजक प्रोफेसर एमएम सिंह ने भी छात्रों को संबोधित किया। इस अवसर पर

प्रोफेसर पूनम पुरी प्रोफेसर पुनीत बिसारिया, डाॅ सौरभ श्रीवास्तव, डॉ शिल्पा मिश्रा, डॉ नेहा मिश्रा, डॉ संतोष पाण्डेय, डॉ श्रीहरि त्रिपाठी, डॉक्टर संगीता डॉ अजय गुप्ता, उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages