बेधड़क एमपी के बालू लदे ओवरलोड ट्रक रातभर भरते हैं उडान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, August 5, 2022

बेधड़क एमपी के बालू लदे ओवरलोड ट्रक रातभर भरते हैं उडान

जिम्मेदारो की नाक के नीचे से हो रहा अवैध खनिज परिवहन का काला व्यापार

लोकेशन, जुगाड़, प्राशासनिक व खादी के गठजोड़ से योगी के फरमान हुए फुर्र

बांदा, के एस दुबे । भाजपा की प्रदेश में ऐतिहासिक सत्ता में दुबारा वापसी का मुख्य कारणो का परीक्षण किया गया तो परिणाम निकल कर यह रहे कि प्रदेश की जनता ने माना कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक मजबूत इरादों वाले मुख्यमंत्री है जिनके कार्यकाल में सुरक्षा, भ्रष्टाचार व माफियाओं पर अंकुश जैसे मुख्य मुद्दे पर बेहतर कार्य किए जिससे अपराधियों पर लगाम लगाई गई। लेकिन कुछ जिम्मैदार नौकरशाही अपनी काली कमाई के चक्कर में सरकारी फरमानों को खननमाफियो की मंशा के आधार पर जमीन पर मूर्तरूप नहीं लेने दे रहे हैं जिसमें सत्ता में दखलंदाजी रखने वाले खादीधारी नेताओं की मौनसहमति आग मे घी का काम कर रहे हैं तभी तो रात के अंधेरे में


मध्यप्रदेश से लालसोने रूपी बालू लदे सैकड़ों ओवरलोड एनआर ट्रक सीना चौड़ा कर जिले में टैक्सपेयर्स की गाढी कमाई के करोड़ों रुपए लागत से बनी सड़कों को रौंदते हुए खस्ताहाल करते हुए जिले के थाना गिरवां ,मटौंध, व चौकी भूरागढ़ पार कर शहर के मध्य से महानगरों के लिए फर्राटा भरते हैं ।ज्यादा हो हल्ला होने पर जिम्मेदार प्रशासनिक अमला सुनियोजित तरीक़े से छोटीमोटी कार्यवाही कर अपनी पीठ थपथपा कर सब कुछ आल इज वेल दिखाने में सफलता प्राप्त कर लेता है ना कभी इस ओवरलोडिंग खेल के उन मुख्य किरदारों पर ठोस कार्रवाई करते हैं जिससे उनकी यह तिलिस्म को तोड़ दिया जाए। जिसमें फर्जी पत्रकारिता की आड मे पत्तलकार लोकेशन गैग, खननमाफिया, प्रशासनिक अमला व खादीधारी अपने कर्तव्यों के साथ छल ना करें मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में खनन करने वाले माफिया ने अपने एक गुर्गे को जिले में मीडिया, प्रशासनिक व खादीधारी नेताओं को उनकी औकात के अनुसार इस लालसोने की डकैती की कमाई की हिस्सेदारी समय से पहुचाने का जिम्मा सौंपा है । इस कम्पनी का रसूख इतना है कि मध्यप्रदेश व उत्तर प्रदेश के साथ अन्य प्रदेशों में भी अलग अलग नाम से खननपट्टौ मे अपनी पकड़ बना रखीं और प्रदेश से लेकर केंद्र सरकार मे अपनी पकड़ का दम दिखाकर नियमों कानून के विरुद्ध अबैध खनन ओवरलोडिंग मे सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं जिससे बडे बडे अधिकारी ठोस कार्रवाई करने से गुरेज कर इस ब्यवस्था मे अपनी हिस्सैदारी मे मेहनत करते देखें जाते है । प्रदेश सरकार के मुखिया के दबाव के कारण मुँहदेखी कार्यवाही की रस्मअदायगी कर ट्रकों को पकड़कर जुर्माना ठोक दिया जाता हैं।लेकिन माफियाओं को बचाने का प्रयास किया जाता हैं ।


कौन है मास्टरमाइंड राघव अग्रवाल उर्फ बंसल ।

बांदा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पैलानी व अमलोर के खदान संचालक मलोहत्रा कम्पनी के रसूखदार गुर्गे ने ही इस मध्यप्रदेश से ओवरलोड एनआर ट्रकों को यूपी निकासी की कमान संभाल रखीं है जिसके लिए उसकी सफेद फार्चूनर गाड़ी प्रतिदिन अधिकारियों, नेताओं व मीडिया के कुछ लोकेशनबाजो के चक्कर लगाती हैं और सुबिधायें देती हैं बताते चलें कि इसकी जुगाड़ का लोहा मानने लायक जो भी बिरोध करता हैं उसको फर्जी मुकदमा और धमकियां दी जाती हैं पैलानी खदान मे अबैध खनन के कारण तीन ग्रामीण इनके गहरे मौत के कुएं में टीला धसने से अकाल मौत के गाल मे समा गए अमलोर के हालात भी कुछ ऐसे ही है जहाँ किसानों के खेत सरकारी जमीनों से लालसोना लूटकर अब मध्यप्रदेश में चारों ओर अबैध खनन कर ओवरलोड ट्रक बेधड़क रात में जिले से गुजारने का काम कर रहे है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages