जगदगुरु ने 525वीं तुलसी जयन्ती पर किया जलाभिषेक - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, August 5, 2022

जगदगुरु ने 525वीं तुलसी जयन्ती पर किया जलाभिषेक

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। गोस्वामी तुलसीदास की 525वीं जयन्ती समारोह में तुलसी जन्मकुटीर श्रद्धालुओं से खचाखच भरा रहा। आयोजक रामदास महाराज व जगदगुरु रामभद्राचार्य महाराज ने वेद मंत्रोच्चारण के साथ विधिविधान से गोस्वामी तुलसीदास की पूजा अर्चना की।

तुलसी जन्मकुटीर व मानस मन्दिर को फूलमालाओं से भव्य सजाया गया था। गुरुवार को ओम नमः शिवाय वंशीवट वृन्दावन के सन्त रामदास महाराज ने सुबह करीब आठ बजे विधिविधान से वेद मंत्रों के साथ पंडित गंगाधर मिश्र, बिहारी लाल द्विवेदी, गौरव पाण्डेय, सन्तोष कुमार शुक्ला, आचार्य वरुण आदि आचार्यों ने जलाभिषेक कराया। दोपहर बाद तुलसी पीठाधीश्वर जगद्गुरु रामभद्राचार्य महाराज ने गोस्वामी तुलसीदास की प्रतिमा का गंगाजल से जलाभिषेक किया। इस दौरान उन्होंने आगामी समय में तुलसी जन्मकुटीर में रामकथा का आयोजन करने की घोषणा की। साथ ही कहा कि महान संत के जन्मोत्सव में प्रतिवर्ष तन, मन, धन, मनसा वाचा कर्मणा के साथ

संत तुलसी प्रतिमा में जलाभिषेक कते जगदगुरु।

उपस्थित होकर पूरा सहयोग करेंगें। सन्त गोस्वामी तुलसीदास ने रामचरितमानस की रचना कर डूबते हुए समाज को सत्मार्ग पर लाने का काम किया था। रामचरितमानस के अनुकरण से समाज को ज्ञान, बुद्धि, भक्ति, पारिवारिक संचरना, भाई का प्रेम, भारतीय संस्कृति भी देखने को मिलती है। पूर्व लोक निर्माण विभाग राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय ने भी तुलसी जयन्ती महोत्सव में शामिल होकर तुलसी जन्मपीठ व मानस पीठ में मत्था टेका। इस अवसर पर तुलसी जन्मकुटीर में लगातार 10 दिनों तक सन्त, महात्माओं, श्रद्धालुओं, असहाय, गरीब लोगों के लिए भण्डारा का अयोजन अनवरत चलता रहा।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages