25 राजस्व ग्रामों को ओडीएफ प्लस बनाएं : डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, August 31, 2022

25 राजस्व ग्रामों को ओडीएफ प्लस बनाएं : डीएम

स्वच्छ भारत मिशन के कार्यों में नहीं होना चाहिए फेरबदल

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। डीएम अभिषेक आनन्द की अध्यक्षता में जिला स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई। उन्होंने सामुदायिक संस्थागत खाद गड्ढा, नाडेल, कचरा पार्क, इन्सिनरेटर तरल अपशिष्ट में व्यक्तिगत सोक पिट, सिल्ट केचर, फिल्टर चेंबर, तालाबों, जलाशयों पर तालाबों का सुंदरीकरण, वेस्ट स्टेबलाइजेशन पोंड, यू टाइप नाली निर्माण मरम्मत, भूमिगत नाली निर्माण, हैंडपंप मरम्मत, सोक पिट, किचन गार्डन, स्मार्ट वाटर आदि विभिन्न योजनाओं की बिंदुवार समीक्षा की। 

बैठक में निर्देश देते डीएम।

डीएम ने जिला पंचायत राज अधिकारी तुलसीराम को निर्देश दिए कि जो पांच हजार से अधिक जनसंख्या वाले 20 ग्राम पंचायतों के चयनित 25 राजस्व ग्रामों में ओडीएफ प्लस माडल बनाए जाने हैं इसमें जो सभी कार्य कराए जाने हैं उनका स्थान चिन्हित किया गया है। बड़ी ग्राम पंचायत में बायोगैस प्लांट स्थापित करने तथा कार्यो के संचालन कैसे किया जाएगा पूरा प्राक्कलन तैयार कराकर अगली बैठक में समिति के समक्ष रखें। तभी कार्य योजना को शासन को भेजें। सभी कार्यों को पीपीटी बनाकर प्रोजेक्टर के माध्यम से दिखाया जाए। उन्होंने कहा कि विकासखंड मानिकपुर के अंतर्गत रेहुंटिया ग्राम के पास जो अंडर रेलवे मार्ग बना है उसमें आईसी मद से स्वच्छ भारत मिशन के प्रचार प्रसार के स्लोगन की वाल पेंटिंग हो। उन्होंने कहा कि कोई भी कार्य योजना बनाएं तो समिति को भी अवगत कराएं। योजनाएं स्वच्छ भारत मिशन में लागू की गई है उसमें लाभार्थियों का चयन गांव में ही सही तरीके से कराया जाए। मजरा को लेकर सभी कार्य कराकर संतृप्त करे। कैटेगरी भी बने। उन्होंने कहा कि इन कार्यों में मनरेगा योजना से अधिक से अधिक कार्य कराए जाएं। ग्रामों में जो साइकिल रिक्शा, ई रिक्शा क्रय किए जाने हैं उसमें बड़े मजरों पर ट्राई साइकिल से कचरा एकत्र कराने की व्यवस्था डोर टू डोर कराएं। मैन पावर के संबंध में कहा कि जो पद के सापेक्ष अभी खाली है तो शासन से पत्र भेजकर मांग करें। कार्यों का मूल्यांकन अवश्य करें। सामुदायिक शौचालय के संचालन का सत्यापन हो। साफ सफाई अच्छी रहे। वहां पर रहकर रजिस्टर भी बनाए। शासन की मंशा के अनुरूप संचालित होना चाहिए। इसका एक व्हाट्स एप ग्रुप बनाएं और उसमें प्रतिदिन की फोटोग्राफ अवश्य मंगाया जाए। उन्होंने कहा कि जो स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को सामुदायिक शौचालय संचालन का भुगतान ग्राम पंचायतों से किया जा रहा है उसकी सूचना दें। ग्राम में तैनात पंचायत सहायकों का समय से मानदेय का भुगतान कराएं। किसी सचिव द्वारा लापरवाही की जा रही है तो उनके खिलाफ कार्यवाही सुनिश्चित करें। कहां की आरआरसी निर्माण के लिए भूमि का चिन्हांकन सही तरीके से कराया जाए। इस पर जिला पंचायत राज अधिकारी ने बताया कि जो गांव इस कार्य में लिए गए हैं उन गांव के ग्राम पंचायत समिति की बैठक के बाद ही सभी कार्यों को कराए जाने का निर्णय लिया गया है। डीएम ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अंतर्गत जो शासन से गाइड लाइन जारी की गई है उसी के अनुसार कार्यों को कराएं। इसमें किसी भी प्रकार का फेरबदल नहीं होना चाहिए। बैठक में सीडीओ अमित आसेरी, पीडी ऋषि मुनि उपाध्याय, डीसी मनरेगा धर्मजीत सिंह, परियोजना प्रबंधक जल निगम राजेंद्र सिंह, बीएसए लव प्रकाश यादव, जिला समाज कल्याण अधिकारी ज्ञानेंद्र सिंह भदौरिया, सहायक कोषाधिकारी अवधेश प्रताप सिंह, ब्लाक प्रमुख मानिकपुर अरविंद कुमार मिश्रा सहित समिति के सदस्य मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages