विकास के पैसे का बंदरबांट किए जाने का प्रधान व सचिव पर आरोप - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, July 22, 2022

विकास के पैसे का बंदरबांट किए जाने का प्रधान व सचिव पर आरोप

पूर्व प्रधान की अगुवाई में ग्रामीणों ने सौंपा ज्ञापन 

फतेहपुर, शमशाद खान । ऐरायां विकास खंड की ग्राम पंचायत कोड़ारवर के प्रधान व सचिव पर मिलीभगत करके बिना कार्य कराए हेराफेरी करके कई लाख रूपए का भुगतान करा लिए जाने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर जिलाधिकारी को संबोधित एक ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौंपकर कार्यों की जांच कराकर विधिक कार्रवाई किए जाने की मांग की है। 

कलेक्ट्रेट में ज्ञापन देने जाते ग्रामीण।

ग्राम पंचायत कोड़ारवर के पूर्व प्रधान रमन सिंह की अगुवाई में ग्रामीण कलेक्ट्रेट आए और प्रधान व सचिव पर गंभीर आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौंपकर बताया कि मनरेगा योजना के अंतर्गत चौकरी तालाब की खुदाई, बंधी तालाब का नवीनीकरण भाग-1, घनश्याम के खेत से रनमन के ट्यूबवेल तक मिट्टी पुराई कार्य, तेलियन तालाब की खुदाई, बंधवा तालाब की खुदाई, कसना अमृत सरोवर तालाब की खुदाई में जमकर धांधली की गई है। इतना ही नहीं ग्राम प्रधान व सचिव ने एक ही व्यक्ति के दो-दो कार्ड बनाकर भुगतान कराया है। मनरेगा योजना के अंतर्गत कई अन्य कार्य दिखकर फर्जी भुगतान कराया गया। ई-ग्राम स्वराज हैंडपम्प रिबोर का कार्य दिखाकर पैसा निकाला गया। प्रधान ने अपने भाई सर्वजीत के नाम कई बार भुगतान किया है। प्रधान ने इंटरलाकिंग का कार्य दिखाकर ग्राम पंचायत के लोगों को गुमराह किया क्योंकि नकुल विश्वकर्मा के घर से राकेश के घर तक जो इंटरलाकिंग का निर्माण मनरेगा से कराकर भुगतान किया गया है उसी काम को नकुल के घर से पंचम के घर तक व नाली निर्माण में 143910 रूपए का भुगतान किया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि प्रधान व सचिव ने मिलीभगत करके जमकर विकास के पैसों का बंदरबांट किया है। विकास कार्यों की जांच कराकर दोनों के खिलाफ विधिक कार्रवाई किया जाना आवश्यक है। इस मौके पर राजेंद्र सिंह, मान सिंह, रामनरेश, जगजीत सिंह, राजू भी मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages