सीएम ने कोदण्ड वन से पौधरोपण जन आंदोलन का किया शुभारंभ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, July 5, 2022

सीएम ने कोदण्ड वन से पौधरोपण जन आंदोलन का किया शुभारंभ

115 करोड़ 42 लाख के परियोजनाओं की मिली सौगात

हाईस्कूल टापर समेत उत्कृष्ट ग्राम पंचायत, विद्यालय सम्मानित

एअरपोर्ट, एक्सप्रेस वे, डिफेंस कारीडोर की जल्द होगी शुरुआत

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने प्रभु श्रीराम की देवभूमि से कोदण्ड वन की घोषणा करते हुए पौध रोपित किया है। वृहद वृक्षारोपण जन आंदोलन का शुभारंभ करने के बाद उन्होंने कहा कि प्रभु श्रीराम ने वनवास काल मे सबसे अधिक चित्रकूट में समय बिताया है। पिछली सरकारों ने डकैत बनाए हैं। अब यहां पर डकैत नहीं पैदा होंगें। इस दौरान उन्होंने 115 करोड़ 42 लाख की योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास कर सौगात दी है। 

पौधरोपण करते

मंगलवार को मानिकपुर तहसील क्षेत्र के मडैयन गांव के मजरा सेहरिन के मटदर वन में सीएम योगी आदित्यनाथ का उडनखटोला 11 बजकर 15 मिनट में उतरा। वन मंत्री अरुण कुमार समेत जनप्रतिनिधियों व अिकारियों ने स्वागत किया। इसके बाद सीएम ने पीपल, बरगद, पाकर हरिशंकरी पौधों का रोपण कर वृहद वृक्षारोपण जन आंदोलन की शुरूआत की। यहां से सभा स्थल पहुंचे। उन्होंने दीप प्रज्जवलित कर 115 करोड़ 42 लाख रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। इस मौके पर प्रदेश स्तर पर 10वां व जिले में पहले स्थान पर रही हाईस्कूल की छात्रा हर्षिता सिंह को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इसी क्रम में उत्कृष्ट माडल स्कूल, माडल ग्राम पंचायत के प्रधानो व प्रतिनिधियों को भी सम्मान किया है। जनसभा को संबोधित करते सीएम ने कहा कि भगवान श्रीराम वनवास काल में चित्रकूट की धरती पर सबसे अधिक समय बिताया है। जिसे वह कोटि-कोटि नमन करते हैं। कहा कि पवित्र भूमि में उन्हे वृक्षारोपण करने का सौभग्य मिला है। त्रेता युग से वन रहे हैं। वनो के कटान व कमी के चलते तरह-तरह की बीमारियां, प्रदूषण फैल रहा है। वनो के आच्छादन कम होने की वजह से दुनिया में ग्लोबल वार्मिग बढ़ा है। कहा कि प्रत्येक जीव-जन्तु, मानव जीवन के लिए पेड़ पौधे जरूरी है। 

संबोधित करते सीएम।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सेहरिन में कोदण्ड वन की स्थापना करते हुए कहा कि कोदण्ड भगवान श्रीराम के धनुष का नाम है। प्रभु श्रीराम ने जन्मस्थली अयोध्या से वनवास काल में चित्रकूट आकर बांस का धनुष बनाकर सुरक्षा किया था। देशवासी धनुषाकार कामदगिरि की परिक्रमा करते हैं। ऐसे में जिम्मेदारी है कि रामायण कालीन वृक्ष लगाए जाएगें। पांच साल में भाजपा सरकार ने सौ करोड़ वृक्ष लगाए। जिनका संरक्षण भी हो रहा है। प्रदेश में 25 करोड़ वृक्षारोपण किया जाएगा जो लगातार 15 अगस्त तक चलेगा। स्वतंत्रता दिवस पर प्रदेश में पांच करोड़ पौधे रोपित होंगें। जिले में 60 लाख सहजन के पेड़ वन विभाग ने तैयार किए हैं। लाभार्थियों व आंगनबाडी केन्द्रों में यह पौधे लगाए जाएंगें। उन्होंने बताया कि बुन्देलखंड के सातो जिलो में नदी के दोनो ओर बागवानी के लिए मिशन मोड़ पर कार्य करना है। जिले में एअरपोर्ट, एक्सप्रेस वे, डिफेंस कारीडोर की शुरुआत जल्द होगी। पिछली सरकारों ने भय, आतंक से जोड़ा है। 12 सौ बेसिक स्कूलो को स्मार्ट बनाकर उत्तम शिक्षा देने के लिए तैयार करें। 

उन्होंने कहा कि बुन्देलखंड में पानी की समस्या भयावाह थी। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रत्येक घर में पेयजल पहुंचाने की योजना तैयार किया है। जिसका क्रियान्वयन होने जा रहा है। जल्द ही हर घर में आरओ का शुद्ध पेयजल मिलेगा जो बाजारों में 20 रुपए बोतल बिकता है। बारिश के एक-एक बूंद को बचाना है। हर ग्राम पंचायत में अमृत सरोवर बनेगें। बेहतर कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों का चयन कर सम्मानित किया जाए। प्रदेश की आबादी लगभग 25 करोड़ है। इसलिए 25 करोड़ पौधे लगाना है। प्रत्येक व्यक्ति एक वृक्ष अवश्य लगाए। उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में अब डायलिसिस की व्यवस्था होगी। दवा का केन्द्र बनेगा। लालापुर में महर्षि बाल्मीकि आश्रम मे ंरोप वे, राजापुर में पर्यटन का विकास कराया जाएगा। इस दौरान उन्होंने बाईपास की घोषणा की। कहा कि टाइगर रिजर्ब बनने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages