धरा को हरा-भरा करना हमारी नैतिक जिम्मेदारीः जेपीएस राठौर - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, July 5, 2022

धरा को हरा-भरा करना हमारी नैतिक जिम्मेदारीः जेपीएस राठौर

राज्यमंत्री ने किया पौधारोपण अभियान का शुभारंभ

जिले में लगाये जायेंगे 5288580 पौधे

बांदा, के एस दुबे । प्रदेश सरकार द्वारा चलाये जा रहे महत्वाकांक्षी पर्यावरण एवं हरीतिमा संरक्षण में वन महोत्सव सप्ताह के अन्तर्गत प्राण वायु उत्पन्न करने वाले पौधों का रोपण आज वन प्रभाग बांदा द्वारा 01 जुलाई 2022 से दिनांक 07 जुलाई 2022 तक वन महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है, जिसका जनपद स्तर पर ग्राम पंचायत मटौंध ग्रामीण परमपुरवा के पास विकास खण्ड बडोखर खुर्द की 22 हे0 की मरौली झील पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सहकारिता जेपीएस राठौर तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में अपर मुख्य सचिव राजस्व सुधीर गर्ग उ0प्र0 शासन रहे।


इस वर्ष प्रदेश में 35 करोड़ वृक्षारोपण करने का लक्ष्य है, जिसमें जनपद बांदा में 5288580 का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। इसमें वन विभाग द्वारा 1339140 तथा अन्य विभागों द्वारा 3949440 है, जिसमें शासन के निर्देशानुसार आज 05 जुलाई को जनपद में 3851966 पौधों का रोपण बृहद स्तर पर वृक्षारोपण किया गया है। 06 जुलाई 2022 को 378000 तथा 15 अगस्त 2022 को 756000 पौधों का रोपण कर धरती को हरे श्रृंगार के रूप में सजाया जायेगा। प्रभागीय वनाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद में माध्यमिक शिक्षा एवं उच्च शिक्षा द्वारा जनपद के प्रत्येक विकास खण्ड में एक-एक ‘‘बाल वन’’ ‘‘युवा वन’’ की स्थापना की जायेगी तथा जनपद बांदा की विधान सभा तिन्दवारी के ग्राम सिंहपुर में श्री रमेश पटेल की निजी भूमि पर 200 पौधों का रोपण कर शक्ति वन की स्थापना की जायेगी। इसके साथ ही वहीं पर 300 पौधों का रोपण कर फलोद्दान वन की स्थापना की जायेगी तथा जनपद बांदा में पर्यावरण विभाग द्वारा 04 स्थलों पर मियावाकी पद्धति से वृक्षारोण कराया जायेगा।


मतदान-2022 सम्बन्धित एक संकल्प नामक पुस्तिका का विमोचन मंत्री सहित मंचासीन अधिकारियों के द्वारा किया गया। राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सहकारिता उ0प्र0 सरकार जे0पी0एस0 राठौर के द्वारा मरौली झील अमृत सरोवर के भीठों पर पारिजात का पौधा लगाकर हरियाली का सन्देश दिया। अपर मुख्य सचिव (राजस्व) उ0प्र0 शासन सुधीर गर्ग (आई0ए0एस0) के द्वारा भी पारिजात के वृक्ष का रोपण किया गया। विधायक सदर प्रकाश द्विवेदी के द्वारा कचनार के पौधे का रोपण किया गया तथा जिलाधिकारी बांदा अनुराग पटेल द्वारा फलदार आम के पौधे का रोपण किया गया एवं मुख्य विकास अधिकारी वेद प्रकाश मौर्या द्वारा पीपल के पौधे का रोपण तथा जिलाध्यक्ष भाजपा संजय सिंह द्वारा चकेसिया के पौधे तथा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष वन्दना गुप्ता द्वारा कचनार के पौधे का रोपण किया गया एवं नगर मजिस्ट्रेट केशव नाथ गुप्ता बांदा द्वारा जामुन के पौधे का रोपण किया गया तथा मटौंध के नत्थूराम प्रजापति के पुत्र अजीत कुमार प्रजापति जो वर्ष-2000 में पाकिस्तान से गोरिल्ला युद्ध करते अदम्य साहस एवं वीरता का सन्देश देते हुए राजौरी में शहीद हुए थे, उनकी पत्नी रानी देवी के द्वारा पीपल के पौधे का रोपण किया गया तथा जिला बेसिक शिक्षाधिकारी सुश्री प्रिन्सी मौर्या द्वारा उनका माल्यार्पण कर स्वागत किया गया तथा मंत्री के द्वारा शॉल एवं नारियल भेंटकर सम्मानित किया गया तथा हर सम्भव मदद का आश्वासन भी दिया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सहकारिता उ0प्र0 सरकार जे0पी0एस0 राठौर ने सम्बोधित करते हुए स्लोगन के माध्यम से उपस्थित जन मानस एवं गणमान्य नागरिकों से नारे लगवाते हुए कहा कि ‘‘हरी-भरी ये धरा, हरी-भरी वसुन्धरा’’ इस धरा को हरा-भरा करना हमारा नैतिक कर्तव्य है। उन्होंने कहा  कि पीपल एक ऐसा वृक्ष है जो 24 घण्टे ऑक्सीजन देने का कार्य करता है इसलिए प्राचीन काल में हमारे ऋषि-मुनियों ने पीपल एवं बरगद के वृक्ष को धर्म से जोड दिया है। उन्होंने कहा कि यह रमणीक स्थल बन गया है और यह एक प्राकृतिक स्थान है। कल्पना कीजिए कि इस धरा में भिन्न-भिन्न प्रकार के पौधे लगाकर हरा-भरा बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हमारी धरती पर प्रकृति से बडा कोई वैज्ञानिक नही है। उन्होंने कहा कि जहां नारी का सम्मान होता है वहां देवता निवास करते हैं। हर किसी की अलग-अलग भूमिका होती है और चाहे वह जिस भी क्षेत्र में हो। हमारे प्रधानमंत्री जी एवं मुख्यमंत्री जी ने विभिन्न प्रकार की लाभार्थी परक योजनाओं का संचालन कर अंतिम पायदान पर खडे व्यक्ति को लाभार्थी परक योजनाओं से लाभान्वित कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्य सामूहिक विवाह योजना आने वाले समय में 51 हजार रूपये की धनराशि बढाकर 01 लाख रूपये करने का प्रस्ताव है, जिससे कोई भी गरीब व्यक्ति अपनी बेटी के हाथ पीले करने से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि हमारी भारतीय जनता पार्टी सरकार के द्वारा मा0 प्रधानमंत्री जी ने धारा 370 हटाने तथा अयोध्या में राम मन्दिर निर्माण तथा विदेशो आने वाले लोंगो को नागरिकता देने तथा डिजिटल इंण्डिया से विभिन्न योजनाओं को संचालित कराने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि अभी तक बुन्देलखण्ड क्षेत्र में बहुत राजनीतिक कमल खिलाये हैं लेकिन अब इन अमृत सरोवरों पर प्रकृति के कमलों को खिलाइये और अपने जीवन को खुशहाल बलाइये तथा अपनी आने वाली नयी पीढियों को हरे-भरे वातावरण का अनुभव कराइये और उनके लिए प्रेरणदायी उदाहरण बनिये कि ज्यादा से पौधों का रोपण करें और इस धरा को हरा-भरा कर दुल्हन जैसे सजायें।

अपर मुख्य सचिव (राजस्व) सुधीर गर्ग ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि पेड लगाना महत्वपूर्ण नही बल्कि उन्हें संरक्षित करना महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि जो जमीन वनों के लिए हो उनमें जाली लगाकर पौधों का संरक्षण किया जाये। उन्होंने माताओ-बहनों को इस अभियान में जुडने का आहवाहन किया तथा टेक्निकल बात बताते हुए कहा कि जिस क्षेत्र में पौधे कम होते हैं वहां बिजली गिरने की सम्भावना अधिक होती है इसीलिए सभी लोग आज यहां से संकल्प लेकर जायें कि र्प्रत्येक व्यक्ति एक-एक पौधे का रोपण कर धरा को हरा-भरा बनायेंगे। जिलाध्यक्ष भाजपा संजय सिंह ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हम सभी का लक्ष्य होना चाहिए एक-एक पौधे का रोपण करना और उसका पालन-पोषण कर बडा करना, क्योंकि इन पौधों से बहुत सारे पौधे आयुर्वेद से जुडे होते हैं।

जिलाधिकारी बांदा अनुराग पटेल ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मंत्री व अपर मुख्य सचिव (राजस्व), जनप्रतिनिधि गण, ग्राम प्रधान गण, एन0सी0सी0 कैडेट के छात्र, एन0आर0एल0एम0 समूह की महिलायें, इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिन्ट मीडिया के मीडिया बन्धुओं एवं उपस्थित गणमान्य नागरिकों तथा विभिन्न विभागों से आये अधिकारी गण एवं ग्रामवासियां का हदय से धन्यवाद ज्ञापित किया और कहा कि हमारे मा0 र्प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री जी के नेत्त्व में केवल आर्थिक एवं सामाजिक विकास पर जोर नही दिया जा रहा है बल्कि चहुमुखी विकास कराया जा रहा है जिसमें पर्यावरण का विकास भी शामिल है। कोरोना काल के के दौरान सभी लोंगो को ऑक्सीजन का महत्व पूर्ण रूप से ज्ञात हो गया है, इसीलिए भविष्य में ऐसी प्राण वायु की कोई समस्या न आये इसके लिए हम सभी को संकल्प करना होगा कि अपने जीवन काल में पौधों को लगाये ही नहि बल्कि उनका संरक्षण कर एक वृक्ष में परिवर्तित करें। बिना प्राण वायु के मानव के जीवन का कोई अस्तित्व नही है। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण महा अभियान को केवल कागजों में ही नही पूर्ण किया जायेगा बल्कि इसकी वास्तविक स्थित धरातल पर भी दिखेगी। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण जन आन्दोलन के तहत आज जनपद में 38 लाख से अधिक पौधों का रोपण किया गया है। कार्यर्क्रम में उपस्थित ब्लाक प्रमुख बडोखर खुर्द स्वर्ण सिंह सोनू, कोऑपरेटिव के चेयरमैन बद्री विशाल त्रिपाठी, बुन्देलखण्ड विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष अयोध्या सिंह पटेल, जलयोद्धा उमाशंकर पाण्डेय, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जगराम सिंह, व्यापार मण्डल के सदस्य संतोष गुप्ता, पूर्व जिलाध्यक्ष लवलेश सिंह, अजीत कुमार गुप्ता, अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 उमाकान्त त्रिपाठी, उपायुक्त मनरेगा राघवेन्द्र तिवारी, उपायुक्त एन0आर0एल0एम0 करूणा करण पाण्डेय, जिला समाज कल्याण अधिकारी श्रीमती गीता सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक विनोद कुमार सिंह, कार्यक्रम संयोजक प्रभागीय वनाधिकारी संजय अग्रवाल सहित अधिकारी गण, जनप्रतिनिधि गण, गणमान्य नागरिक, ग्रामवासी, इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिन्ट मीडिया के पत्रकार बन्धु सहित उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages