स्वास्थ्य पर्यवेक्षक के समर्थन में उतरा संगठन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, July 3, 2022

स्वास्थ्य पर्यवेक्षक के समर्थन में उतरा संगठन

चौकी इंचार्ज देवमई व सिपाहियों पर कार्रवाई की उठाई मांग 

फतेहपुर, शमशाद खान । देवमई चौकी इंचार्ज द्वारा गोपालगंज पीएचसी में तैनात एक पर्यवेक्षक को फर्जी मेडिकल बनाने के मामले में चौकी बुलाए जाने से आहत उत्तर प्रदेश बेसिक हेल्थ वर्कस एंड सुपरवाइजर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बैठक कर नाराजगी का इजहार किया। वक्ताओं ने कहा कि मेडिकल बनाना उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं है। इसके बावजूद चौकी इंचार्ज पर्यवेक्षक को बेवजह परेशान कर रहे हैं। वक्ताओं ने मांग किया कि चौकी इंचार्ज व सिपाहियों पर त्वरित कार्रवाई की जाए यदि ऐसा न हुआ तो संगठन धरना-प्रदर्शन के लिए विवश हो जाएगा। 

बैठक के दौरान नाराजगी का इजहार करते संगठन के पदाधिकारी।

उत्तर प्रदेश बेसिक हेल्थ एंड सुपरवाइजर्स एसोसिएशन की आपात बैठक जिलाधिकारी आवास के सामने गांधी पार्क में जिलाध्यक्ष हेमचंद्र चौधरी की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक का संचालन हिमांशु श्रीवास्तव ने किया। श्री चौधरी ने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोपालगंज में तैनात स्वास्थ्य पर्यवेक्षक इंद्रपाल पुत्र मन्नीलाल निवासी ग्राम देवमई को देवमई पुलिस चौकी इंचार्ज ने जबरन गाली-गलौज व जाति सूचक शब्दों का प्रयोग किया है। बताया कि एक जुलाई को इंद्रपाल ड्यूटी करके वापस गांव पहुंचा। थोड़ी ही देर में दो पुलिस कर्मी घर आए और तेज आवाज में कहने लगे कि तुझे साहब ने चौकी बुलाया है। पर्यवेक्षक जब चौकी पहुंचा तो चौकी इंचार्ज ने अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए फर्जी मेडिकल बनाने का आरोप लगाते हुए गर्दन पकड़कर जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल किया। बैठक को संबोधित करते हुए हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा कि मेडिकल बनाना हमारे अधिकार क्षेत्र में नहीं है। यह काम चिकित्सकों का होता है। बैठक में पदाधिकारियों में नाराजगी साफ दिखाई दी। कहा गया कि यदि देवमई चौकी इंचार्ज व दोनों सिपाहियों पर कार्रवाई न हुई तो वह सभी धरना-प्रदर्शन के लिए विवश हो जाएंगे। इस मौके पर संजय श्रीवास्तव, धनीराम, शैर्य श्रीवास्तव, बृज किशोर, शत्रुघन सिंह, हिमांशु त्रिपाठी समेत सभी पदाधिकारी मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages