ईदुल अजहा की नमाज में अमन-चैन के लिए उठे लाखों हाथ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, July 10, 2022

ईदुल अजहा की नमाज में अमन-चैन के लिए उठे लाखों हाथ

ईदगाह समेत अन्य मस्जिदों में हुई नमाज, बच्चों में दिखा उत्साह

सुरक्षा व्यवस्था के लिए चप्पे-चप्पे पर तैनात रहा पीएसी बल 

असामाजिक व शरारती तत्वों के बहकावे में न आएं लोग : काजी शहर 

फतेहपुर, शमशाद खान । जिला मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्रों में ईदुल अजहा का त्योहार मनाते हुए दिन भर कुर्बानियों का दौर चला। ईदगाह के अलावा मस्जिदों में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने भारी संख्या में शिरकत कर नमाज अदा की। देश में शांति और सौहार्द के साथ भाईचारे के लिए दुआ की गई। बाद में एक-दूसरे के गले मे मिलकर मुबारकबाद दिए जाने का सिलसिला जारी रहा। बच्चों मे खासा उत्साह रहा। बड़ों को पीछे करते हुए उन्होनें भी गले मिलकर एक दूसरे को बधाईयां दी। 

ईदगाह में बकरीद की नमाज अता करते लोग।

ईदुल अजहा के त्योहार के मौके पर सुबह ईदगाह में भारी संख्या में लोग पहुंचे। शहरकाजी शहीदुल इस्लाम अब्दुल्ला ने मौजूद लोगों को ईद की नमाज पढ़ाई तत्पश्चात देश में अमन-चैन की दुआ की। उन्होनें कहा कि हर पर्व एकता और शांति का संदेश देते हैं इन्हें मिल-जुलकर मनाना चाहिए। इसी तरह पनी मोहल्ले स्थित बंदगी मियां की मस्जिद में काजी-ए-शहर कारी फरीद उद्दीन कादरी ने मौजूद मुस्लिम समुदाय को ईदुल अजहा की नमाज पढ़ाई। उन्होने कहा कि हम सबको मिलाकर राष्ट्र का वजूद है। इस मुल्क में विभिन्न जातियों व धर्म आस्था के लोग निवास करते हैं। इसके बाद भी यह अखंड भारत है। प्यारे हिंदुस्तान में हर धर्म के लोगों को अपने धर्म शिक्षा तथा अपनी उन्नति के लिए काम करने की संवैधानिक आजादी है। ईदुल अजहा के अवसर पर उन्होने लोगों को संकल्प दिलाया कि जिस तरह पैगंबर इब्राहीम, पैगंबर इस्माइल व मां हाजरा ने शैतान की बात न मानकर राह-ए-हक में अल्लाह की खुशी के लिए जानी माली कुर्बानी पेश की उसी तरह हमें भी चाहिए कि सच को बचाने के लिए असामाजिक शरारती तत्वों के बहकावे में न आएं। हमें चाहिए कि जनपद, राज्य व देश नहीं बल्कि विश्व बंधुत्व व भाईचारे की कोशिश करें। अंत में उन्होने देश की सुरक्षा, समृद्धि तथा भाईचारा कायम रखने की दुआ की। उन्होने शासन, प्रशासन, नगर पालिका परिषद को उनके इंतजाम पर ईदुल अजहा की मुबारक बाद की और शुक्रिया अदा किया। नमाज अता करने के बाद अभिभावकों संग बच्चों ने ईदगाह में लगे मेले में अपनी मन पसंद चीजों की जमकर खरीददारी की। वहीं पूर्वान्ह 9 बजे के बाद घरों में कुर्बानियों का दौर चला जो देर शाम तक जारी रहा। घरों में पहले सेवइयों का दौर चला और बाद में देर शाम कुर्बानियों के बाद लोगों के घर-घर मिलने का सिलसिला शुरू हुआ। सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिकोण से ईदगाह समेत शहर के प्रमुख चौराहों पर पीएसी बल की तैनाती रही। कुल मिलाकर जिले में शांतिपूर्वक माहौल के बीच ईदुल अजहा का पर्व सम्पन्न हो जाने पर जिला एवं पुलिस प्रशासन ने राहत की सांस ली। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश, पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह के अलावा अन्य प्रशासनिक अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।  


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages