बस स्टैण्ड के बंद पेशाब घर को खुलवाने की मांग - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, July 12, 2022

बस स्टैण्ड के बंद पेशाब घर को खुलवाने की मांग

अधिवक्ता संघ ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

अतर्रा/बांदा, के एस दुबे । कस्बे के बांदा बस स्टैंड पर बने पेशाब घर को पालिका प्रशासन द्वारा रातो रात दीवाल चुनाकर बंद करने से लोगों का आक्रोश बढ़ता दिख रहा है एक ओर जहां अधिवक्ता संघ उप जिलाधिकारी गौरव यादव को ज्ञापन सौंपकर तत्काल जनहित में बंद पेशाब में खुलवाने की मांग की है अधिवक्ताओं का आक्रोश देख उप जिलाधिकारी श्री यादव ने 24 घंटे के अंदर बंद पेशाब घर खोलने का आश्वासन दिया है। वहीं दूसरी ओर नगर के आम लोगों में भी पालिका के इस जन विरोधी रवैया पर आक्रोश बढ़ता दिख रहा है ।

लंबे समय से भ्रष्टाचार की चर्चाओं में रहने वाली पालिका प्रशासन एक बार फिर जनविरोधी एक निर्णय घेरती दिख रही है। कस्बे के बांदा रोड बस स्टैंड पर लगभग 40 वर्षों से चल रहे पेशाब घर को पालिका प्रशासन में रातों-रात दीवाल चुना कर बंद कर दिया सुबह जब यात्रियों व राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ा तो लोगों ने इस पालिका के बेहूदा निर्णय पर आक्रोश दिखाना शुरू किया जिसको लेकर मंगलवार को अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अमर सिंह राठौर के नेतृत्व में अधिवक्ताओं ने तहसील में उप जिलाधिकारी विकास यादव को ज्ञापन सौंपकर रातों-रात बंद किए गए पेशाब घर को तत्काल खोलने की मांग की है ज्ञापन में कहा है कि लंबे अरसे से चल रहे पेशाब घर को अधिशासी अधिकारी द्वारा रातों-रात बंद किया जाना जनविरोधी है जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है लोग आसपास बस स्टैंड की पेशाब करने से गंदगी फैल रही है साथ ही ज्ञापन में कहा है कि पालिका प्रशासन ने इसको लाखों रुपए के निर्माण से बनाया था जिस को पूरी तरह से बंद किया जाना जनविरोधी है अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अमर सिंह राठौर व अधिवक्ता सूरज बाजपेई जी 24 घंटे के अंदर पेशाब घर के ना खुलने पर आंदोलन की चेतावनी दी है साथ ही श्री राठौर ने पालिका की इस निर्णय को जनविरोधी बताया है अधिवक्ताओं के आंदोलन की चेतावनी पर उप जिलाधिकारी श्री गौरव जी 24 घंटे के अंदर बंद पेशाब घर को संचालित करने का आश्वासन दिया है अधिवक्ताओं ने इस जनविरोधी निर्णय में लिप्त अधिकारी के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की भी मांग की है। इस दौरान अधिवक्ता संघ के महासचिव मनोज द्विवेदी ब्रज मोहन सिंह राठौर सूरज बाजपेई लखन मिश्रा विवेक बिंद्र तिवारी महेंद्र गुप्ता राजकुमार पाठक राज ललन गर्ग सुशील गुप्ता राम मोहन गुप्ता जितेंद्र तिवारी सुशील गुप्ता अतुल दीक्षित आदि मौजूद रहे।


बंद पेशाबघर को खुलवाने की कवायद में जुटे सभासद

अतर्रा/बांदा। कस्बे की बांदा रोड बस स्टैंड के पेशाब घर को रातों-रात बंद किए जाने के पालिका प्रशासन के निर्णय पर सभासदों ने आक्रोश जताया है सभासद दल के अध्यक्ष रणवीर सिंह उर्फ लालबाबू सभासद भानु प्रताप सिंह सभासद मीनाक्षी गौतम सौभा सिंह लव कुश दिवाकर आदि में इस जनविरोधी निर्णय की निंदा करते हुए कहा है कि पालिका के अधिशासी अधिकारी भ्रष्टाचार में लिप्त कस्बे में जनहित के कई कार्य हैं जो पड़े हुए हैं और जनहित के कार्य छोड़कर वह जनविरोधी कार्य करने में रुचि रख रहे हैं सभासदों ने तत्काल बंद के साथ हैं घर को खोलने की अधिशासी अधिकारी से मांग की है सभासद दल के अध्यक्ष लालबाबू सिंह जल्द ही रणनीति बनाकर आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

एसडीएम ने शौचालय खुलवाने का दिया आश्वासन

अतर्रा/बांदा। कस्बे के बांदा रोड बस स्टैंड पर बने पेशाब घर को रातों-रात पालिका प्रशासन द्वारा बंद किए जाने को लेकर प्रशासन अपनी ही लड़ाई में बैठक में जाता दिख रहा है उप जिलाधिकारी गौरव यादव जी अधिवक्ताओं से वार्ता के दौरान तो यहां तक कहा कि मैंने बंद करने का निर्णय नहीं दिया था आवश्यक कार्रवाई हेतु प्रेषित किया था। किन कारणों से अधिशासी अधिकारी द्वारा रातों-रात बंद कराया गया। इसकी जांच की जाएगी और आवश्यक कदम उठाया जाएगा उधर अधिशासी अधिकारी रामसिंह का बेतुका बयान दिख रहा है उनसे जब जरिए दूरभाष बात की गई तो उन्होंने बताया कीपिंग शौचालय के लिए बाउंड्री उठाई गई है धानी के गेट से महिलाएं पेशाब करने जाएंगे पुरुषों के लिए थोड़ी दूर पर पालिका का सुलभ शौचालय बना हुआ है प्रशासन के दोहरे बयान पर आम जन चर्चा यह है कि 40 वर्षों से चल रहा पेशाब घर आखिर कौनसी आवश्यकता पड़ गई कि रातों-रात बंद करना पड़ा फिर लोगों ने कहा कि थाने के अंदर कोई भी महिला पेशाब करने नहीं जाएगी यह निर्णय  बहुत ही गलत है उधर कांग्रेस जिला महासचिव सूरज बाजपेई ने कहा कि नगर में प्रसिद्ध तीर्थ स्थल गौरा बाबा धाम का कई माह से नाला टूटा पड़ा है सड़क क्षतिग्रस्त हो रही है सावन के महीने में श्रद्धालुओं की भीड़ लगती है वहां के लिए पालिका के पास पैसा नहीं है नगर के अन्य विकास कार्य विधि कछुए की चाल से पालिका यह कहकर चल रही है कि पालिका में फंड नहीं है तो श्री बाजपेई ने कहा कि ऐसी कौन सी आवश्यकता पड़ गई कि रातों-रात प्रसाद घर को बंद करना पड़ा और दीवाल की सुनाई छपाई ,रंगाई का कार्य एक साथ हो गया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages