हेलीपैड में सीएम की अगुवानी को पहुंचे अफसर, जनप्रतिनिधि - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, July 31, 2022

हेलीपैड में सीएम की अगुवानी को पहुंचे अफसर, जनप्रतिनिधि

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को जिले में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रशिक्षण वर्ग के समापन अवसर पर बिंदीराम होटल में कार्यक्रम में शामिल हुए। इसके पूर्व मुख्यमंत्री का बस स्टॉप बेड़ी पुलिया हेलीपैड पर आयुक्त चित्रकूट धाम मंडल बांदा दिनेश कुमार सिंह, अपर पुलिस महानिदेशक प्रयागराज जोन प्रेम प्रकाश, पुलिस महानिरीक्षक बांदा विपिन कुमार मिश्रा, जिलाधिकारी अभिषेक आनंद, पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, सांसद आरके सिंह पटेल, विधायक बांदा प्रकाश द्विवेदी, जिलाध्यक्ष चंद्र प्रकाश खरे, अध्यक्ष जिला पंचायत अशोक जाटव, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद कर्वी नरेंद्र गुप्ता, पूर्व सांसद भैरो प्रसाद मिश्रा, रमेश चंद्र द्विवेदी पूर्व मंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, पूर्व विधायक मानिकपुर आनंद शुक्ला, जय प्रकाश पांडेय, जगदीश गौतम, रमेश अवस्थी आदि जनप्रतिनिधियों ने पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया। तत्पश्चात मुख्यमंत्री कार्यक्रम स्थल बिंदीराम होटल में भारतीय जनता पार्टी के अन्य जनप्रतिनिधियों से भी भेंट की। 

सीएम को पुष्पगुच्छ देते जनप्रतिनिधि

तय समय से करीब दो घंटे पहले आए सीएम

चित्रकूट। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का प्रोटोकाल दोपहर 2ः50 का जारी हुआ था। हेलीकॉप्टर के जरिए अयोध्या से सीधे बेड़ी पुलिया बस स्टैन्ड में बनाए गए हेलीपैड पर उतरना था। अचानक प्रोग्राम बदल गया। तय समय से करीब दो घंटे पहले ही उनका हेलीकॉप्टर बसअड्डे पर उतर गया। प्रशासन को इसकी सूचना मिल चुकी थी। हालांकि सीएम के यहां से जाने का समय 4ः40 बजे ही रहा। ऐसे में सीएम करीब साढ़े तीन घंटे जिले में रहे। इससे पहले हेलीपैड से उतरने के बाद तुलसीपीठ तक जाने और वापस आने तक सांसद आरके सिंह पटेल उनके साथ रहे। दरअसल सारे मंत्रियों के अंदर प्रशिक्षण में शामिल होने के कारण सीएम के साथ सांसद की ही ड्यूटी लगाई गई थी। ऐसे में लोग इसे 2024 के चुनाव को लेकर कयास लगाते रहे।

सीएम को पुष्पगुच्छ देते प्रशासनिक अमला।

रामघाट मार्ग बंद होने से श्रद्धालुओं की हुई दिक्कतें

चित्रकूट। सीएम योगी आदित्यनाथ का आगमन जिले में रविवार की दोपहर को लगभग दो बजे होना था लेकिन सुरक्षा व्यवस्था इतनी कडी कर दी गई कि सुबह दस बजे से ही बेडीपुलिया-रामघाट मार्ग बंद कर दिया गया। सावन माह में श्रद्धालुओं को इससे काफी परेशानी उठानी पड़ी। मुख्यमंत्री का हेलीकाप्टर बेडीपुलिया से रामघाट मार्ग के कुछ दूरी पर रोडवेज बस स्टैंड के पास बना था। इसी मार्ग पर होटल में प्रशिक्षण वर्ग में उन्हें शामिल होना था। सुबह से पूरे परिसर को सुरक्षा कर्मियों ने घेर लिया। डबल लेन की सड़क होने पर पहले दो दिन से वन वे किया गया था। रविवार को दोनों रास्ते बंद कर दिए गए। इस कारण श्रद्धालुओं को शिवरामपुर व हनुमानधारा मार्ग से होकर जाना पड़ा। बेडीपुलिया में बेरीकेटिंग को सुबह से लगाने को लेकर कई बार श्रद्धालुओं की सुरक्षा कर्मियों से नोंकझोंक हुई।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages