13 से 15 अगस्त तक चलेगा प्रार्थना का पंचांग-03 अभियान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, July 12, 2022

13 से 15 अगस्त तक चलेगा प्रार्थना का पंचांग-03 अभियान

सीडीओ ने दीप जलाकर किया शुभारंभ 

बच्चों की शिक्षा को उन्नयन तक ले जाने का करें प्रयास : सत्य प्रकाश

फतेहपुर, शमशाद खान । विकास भवन सभागार में मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश ने 13 जुलाई से 15 अगस्त तक चलने वाले प्रार्थना का पंचांग-03 अभियान का शुभारंभ दीप प्रज्जवलित करके शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि अभियान के माध्यम से जनपद के समस्त प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों के प्रार्थना सभा को विभिन्न गतिविधियों द्वारा छात्रों में आत्मविश्वास जागृत करना, विद्यालयी परिवेश एवं अनुशासन की बेहतर समझ विकसित करना तथा व्यवहार में सकारात्मक परिवर्तन लाना है। 

प्रार्थना का पंचांग शुभारंभ में भाग लेते सीडीओ सत्य प्रकाष।

सीडीओ ने कहा कि कहा कि शिक्षक इच्छा शक्ति से दृढ़ संकल्पित होकर अपने दायित्व का जिम्मेदारी से निर्वहन करें। ड्रॉप आउट बच्चों का नामांकन करें। बच्चों की शिक्षा को उन्नयन तक ले जाने के प्रयास करे। इस अभियान में भी प्रार्थना का पंचांग-1 की सभी गतिविधियों को प्रार्थना सभा मे जारी रखा जाए। प्रथम सप्ताह (13 जुलाई से 19 जुलाई) में बच्चों को ट्रैफिक सिग्नल, पड़ोसी जनपदों के बारे में, मनुष्य के बाह्य व आन्तरिक अंगों के बारे में विटामिन व पोषक तत्वों के बारे में जानकारी दी जाएगी। द्वितीय सप्ताह (20 जुलाई से 26 जुलाई) में बच्चों को आस पास के लोगों दर्जी, बढ़ई, टेलर, सुनार, बार्बर के अलावा पर्यावरण में पौधों का महत्व व पालीथीन के उपयोग से होने वाले नुकसान, राज्य और राजधानी के बारे में एवं ऐसी बीमारियों जो छुआछूत जैसे हैजा, कोरोना आदि के बारे में जानकारी दी जाए। तृतीय सप्ताह (27 जुलाई से 04 अगस्त) में हर हाथ तिरंगा के निर्माण, कलर आदि, पुराने छात्रों का सम्मेलन एवं उनको बुलाना, देश की आजादी के नायकों, क्रांतिकारियों, अमर शहीदों, बावन इमली आदि एवं खेलो के बारे में जानकारी दी जाए। चतुर्थ सप्ताह (04 अगस्त 14 अगस्त) में शहीदो के बारे में जानकारी व भक्ति गीत का 15 अगस्त को प्रस्तुतीकरण, भारत का नक्शा बनाकर प्रस्तुतीकरण आदि के बारे तैयार किया जाए। पिछले अभियान में जिन विद्यालयों का खराब प्रदर्शन था, उन विद्यालयों के शिक्षको को दायित्वबोध कराते हुए कहा कि शिक्षक गरिमयी पद का ध्यान रखकर आत्ममंथन करते हुए अभियान को सफल बनाये साथ ही शिक्षा की गुणवत्ता में भी सुधार लाए अन्यथा कार्यवाही के लिए तैयार रहे। इस मौके पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुमार कुशवाहा, जिला बेसिक शिक्षा विभाग के समस्त जिला समन्वयक तथा नीति आयोग की सहयोगी संस्था पीरामल फाउंडेशन के पदाधिकारी, खंड शिक्षा अधिकारी, डीसीएमआईएस सहित शिक्षक-शिक्षिकाएं व अन्य संबंधित उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages