नौकरी दिलाने के नाम पर चल रहा था धर्म परिवर्तन का खेल - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, June 20, 2022

नौकरी दिलाने के नाम पर चल रहा था धर्म परिवर्तन का खेल

पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार

अन्य की तलाश में छापेमारी कर रही पुलिस 

फतेहपुर, शमशाद खान । बेरोजगार युवाओं को नौकरी दिलाने के नाम पर धर्म परिवर्तन के चल रहे खेल का आज पर्दाफाश हो गया। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने आधा दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ दर्ज किए गए मुकदमें में तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। जिनके खिलाफ सुसंगत धाराओं के तहत कार्रवाई करते हुए न्यायालय भेज दिया। अन्य शेष आरोपियों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। 

पुलिस टीम की गिरफ्त में धर्म परिवर्तन के आरोपी।

सदर कोतवाली में दी गई तहरीर में सुधांशु चौहान पुत्र सुनील चौहान निवासी चंदुआ छित्तुपुर वाराणसी थाना सिंगरा जनपद वाराणसी ने बताया था कि उसके मोबाइल पर अरमान अली निवासी जनपद गाजीपुर ने कहा था कि उसके घर वालों से बात हो गई है। उसकी ट्रांसपोर्ट में नौकरी लग गई है। पहले माह पंद्रह हजार तनख्वाह दी जाएगी और बाद में बढ़ा दी जाएगी। बेरोजगार होने के कारण वह प्रलोभन में आ गया और अरमान अली के बताए अनुसार फतेहपुर जनपद आ गया। 16 जून को वह मुखलाल स्वीट हाउस के पास पहुंचा जहां रात लगभग दो बजे अरमान अली एक अज्ञात स्थान ले गया। जहां उनको खाना खिलाया। सुबह अरमान उसे लखनऊ बाईपास स्थित आफिसनुमा घर ले गया। जहां उससे एक हजार रूपए ले लिए और दस हजार की मांग की। जिस पर उसने घर से दस हजार रूपए मंगवाकर दिए। तहरीर में बताया कि 17 जून को वह और लगभग बीस हिंदू व तीस-चालीस मुस्लिम अज्ञात लोग एक मदरसे पहुंचे। मदरसा ले जाने में मोहसिन व यासीन भी शामिल थे। मदरसे में बताया गया कि हमारे अनुसार चलोगे तो महीने में एक लाख व दो लाख रूपए कमा सकते हो। उसके पश्चात एक सेमिनार की तरह कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें बताया कि संगठन से जुड़ने के बाद हम बहुत पैसा कमा रहे हैं। 19 जून की सुबह लगभग साढ़े छह बजे उसको और करीब पचास हिंदू लड़के व एक सैकड़ा मुस्लिम लड़कों को एक मस्जिद में ले गए। जहां कहा गया कि मुस्लिम धर्म अपना लो और इसका प्रचार-प्रसार करो। मुस्लिम धर्म अपनाने के लिए बाध्य किया गया। इस काम में मकान मालिक अलीम भी शामिल है। यह बात सुनकर वह भयभीत हो गया और उसे बंधक बना लिया। किसी तरह जान बचाकर वह भागा और कोतवाली पहुंचा। पीड़ित की तहरीर पर कोतवाली पुलिस हरकत में आ गई और आरोपियों की गिरफ्तारी सुनिश्चित करने के लिए ताबड़तोड़ दबिशें दी। कोतवाली के उप निरीक्षक संदीप कुमार तिवारी ने हमराही पुलिस कर्मियों के साथ दबिश देकर आरोपी मोहसीन पुत्र मुजम्मिल अंसारी निवासी मनिहारी थाना फतेहगढ़ जिला फर्रूखाबाद हाल पता सईद गार्डेन तुराबअली का पुरवा थाना कोतवाली, यासीन मंसूरी पुत्र मोहम्मद शफीक निवासी बहादुरगंज मुहल्ला थाना मऊ दरवाजा जिला फर्रूखाबाद हाल पता सईद गार्डेन तुराबअली का पुरवा व मकान मालिक मो. अलीम पुत्र मोहम्मद हसीन निवासी सईद गार्डेन तुराबअली का पुरवा थाना कोतवाली को गिरफ्तार कर लिया। जिनसे कड़ाई से पूछताछ करने के बाद धर्म परिवर्तन अधिनियम के तहत कार्रवाई कर न्यायालय भेज दिया। शेष अन्य आरोपियों की तलाश पुलिस कर रही है। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages