माँ मढ़ीदाई मंदिर पर देवी जी की वार्षिक विदाई के आयोजन में कन्या भोज व भंडारा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, June 13, 2022

माँ मढ़ीदाई मंदिर पर देवी जी की वार्षिक विदाई के आयोजन में कन्या भोज व भंडारा

बबेरु/बांदा, के एस दुबे । बबेरू कस्बे के प्रसिद्ध मां मढी दाई मंदिर पर क्षेत्रवासियों एवं ग्राम वासियों के सहयोग से हर वर्षों की भांति इस वर्ष भी विशाल कन्या भोज एवं भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें सुबह से ही भंडारा प्रारंभ हो गया है, और रात्रि तक भंडारा चलता रहेगा।, वहीं हवन शांति पूजा अर्चना कर देवी जी की वार्षिक विदाई की गई है, जिसमें हजारों की संख्या में लोग पहुंचकर प्रसाद ग्रहण कर रहे हैं।




बबेरू कस्बे के प्रसिद्ध मां मढ़ी दाई मंदिर पर वार्षिक कन्या भोज एवं भंडारा के साथ-साथ देवी जी की विदाई कार्यक्रम का आयोजन किया गया हैं। जिसमें हवन शांति कर देवी जी की विदाई की गई है, और वार्षिक कन्या भोज एवं विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें सुबह 6रू00 बजे से भंडारे की शुरुआत कर दी गई है। और यह निरंतर रात्रि 8रू00 बजे तक भंडारे का आयोजन चलता रहेगा। जिसमें सुबह से ही श्रद्धालु प्रसाद ग्रहण करने के लिए पहुंच रहे हैं। वहीं पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष सूर्यपाल सिंह यादव के द्वारा जानकारी दी गई कि यह भंडारे का आयोजन वार्षिक चलता है, जो हर वर्ष देवी जी की विदाई के साथ-साथ कन्या भोज और भंडारे का आयोजन होता है। जिसमें क्षेत्र एवं ग्राम वासियों और कस्बा वासियों के सहयोग से यह भंडारे का आयोजन होता है। जिसमें दूर-दूर से भक्त आते हैं और यहां पर प्रसाद ग्रहण करते हैं। मां मढी दाई का मंदिर बहुत ही प्राचीन और प्रसिद्ध है, यहां पर जो भी भक्त श्रद्धा भाव के साथ पूजा अर्चना करने आता है। उसकी मनोकामना अवश्य पूरी होती है। उन्होंने यह भी बताया की मां मणि दाई की मूर्ति पंचमुखी है,जो भगवान शिव के रूप में देखी जाती है। ऐसी दिव्य मूर्ति भारत में कहीं देखने को नहीं मिली, सिर्फ इसी तरह की मूर्ति नेपाल के पशुपतिनाथ मंदिर में मूर्ति देखने को मिली है। यहां पर लोग अन्य प्रदेशों और अन्य जनपदों से लोग दर्शन करने और पूजा-अर्चना करने आते हैं। और उनकी मनोकामना भी अवश्य पूरी होती है। और जो भी यहां पर पूजा करने आता है उसको मन की शांति मिलती है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages