अपराधियों पर शिकंजा, विकास को मिले प्राथमिकता : मंत्री - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, June 11, 2022

अपराधियों पर शिकंजा, विकास को मिले प्राथमिकता : मंत्री

मत्स्य विभाग, सहकारिता व ऊर्जा मंत्री ने विभागवार योजनाओं की समीक्षा कर दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। प्रभारी मंत्री डा. संजय कुमार निषाद की अध्यक्षता व राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार जेपीएस राठौर, ऊर्जा राज्य मंत्री सोमेन्द्र तोमर, सांसद आरके सिंह पटेल, मानिकपुर विधायक अविनाशचंद्र द्विवेदी, जिला पंचायत अध्यक्ष अशोक जाटव की उपस्थिति में कानून व्यवस्था, विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों आदि विभिन्न बिंदुओं की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।

समीक्षा करते मंत्रीगण।

प्रभारी मंत्री ने कानून व्यवस्था के संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र कुमार राय से विभिन्न बिंदुओं की जानकारी लेते हुए कहा कि संबंधित पुलिस अधिकारियों को क्षेत्र में भ्रमण कराकर अपराधियों के खिलाफ कार्यवाही सुनिश्चित कराई जाए। महिला उत्पीड़न के मामलों का तत्काल निस्तारण कराएं। अवैध शराब कारोबार के खिलाफ अभियान चले। सड़क सुरक्षा को देखते हुए ब्लैक स्पाट मुख्य मार्गों के चिन्हित करें। थानों का रखरखाव मंदिर की तरह हो। ताकि आमजन के अंदर भय न रहे। प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री की सोच है कि जब तालाब जिंदा थे तो पेयजल की समस्या नहीं थी जो तालाब विलुप्त हो गए हैं उन्हें मानक के अनुरूप खुदाई कराएं। इस पर जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल ने बताया कि 75 अमृत सरोवर व 63 नीति आयोग के तहत तालाब की खुदाई कराई जा रही है। इसके अलावा वाटर रिसोर्सेज के अन्य कार्य जारी है। सांसद ने कहा कि सिंचाई विभाग के बंधो में जो मछली पालन का ठेका दिया जाता है तो बाहर के लोगों को न देकर जनपद के मछुआ समुदाय के लोगों को दें। प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास, मछुआ आवास के जो पात्र लोग छूट गए हैं उन्हें मुख्यमंत्री आवास दिलाया जाए। मुख्य विकास अधिकारी श्री अमित आसेरी से कहा कि पात्रता का भौतिक सत्यापन अवश्य कराएं। सहकारिता मंत्री ने पेयजल के संबंध में जानकारी की। जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि जनपद में 62 गांव में पेयजल की समस्या थी। जहां पर टैंकर बढ़ाए गए हैं। प्रभारी मंत्री ने कहा कि गांव में पेयजल की जिम्मेदारी सचिव, लेखपाल को दी जाए। डीपीआरओ तुलसीराम से कहा कि ग्राम पंचायत की बैठक पंचायत भवन में नियमित रूप से हो। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. इमित्याज से कहा कि शासकीय अस्पतालों को सेवा केंद्र बनाए। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र राजापुर का निरीक्षण किया गया। जिसमें चिकित्सक व कर्मचारी मौके पर उपस्थित नहीं थे। सभी का एक दिन का वेतन काटकर कार्यवाही सुनिश्चित करें। सिरावल पंप कैनाल के नहर संचालन की जांच जिलाधिकारी अन्य विभागों के अधिकारियों से कराएं कि टेल तक पानी पहुंच रहा है कि नहीं। रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। इसी प्रकार अन्य पंप कैनालों की भी जांच कराई जाए। किसान सम्मान निधि प्राप्त करने वाले किसानों के मध्य गोष्ठी कराएं। प्राकृतिक खेती को बढ़ावा दें। लोक निर्माण विभाग अधिकारियों को निर्देश दिए कि जनपद की सड़कें अच्छी रहें। सड़कों की पटरिया खराब है। उन्हें ठीक कराएं। गड्ढा मुक्त कराएं। एक जनपद एक उत्पाद में उपायुक्त उद्योग से कहा कि लकड़ी के खिलौने के साथ मूर्तियां बनाने के उद्योग को भी बढ़ाएं। बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि विद्यालयों के ऑपरेशन कायाकल्प के 19 पैरामीटर्स पर कार्य पूर्ण कराएं। स्कूलों में बेसिक शिक्षा के पठन पाठन का स्तर ठीक नहीं है। जिसे दुरुस्त करे। वन विभाग से कहा कि सड़क के किनारे अधिक से अधिक वृक्ष लगवाए। मत्स्य विभाग से कहा कि मछली पालन का पट्टा मछुआ समुदाय के लोगों की ही दिया जाए। जिलाधिकारी से कहा कि डीएमएफ फंड की धनराशि से सड़क न बनाकर अन्य जनहित के विकास कार्य, गरीब बच्चों की पढ़ाई लिखाई पर खर्च करें। ऊर्जा मंत्री ने अधीक्षण अभियंता विद्युत को निर्देश दिए कि एक से 30 जून तक जो एकमुश्त समाधान योजना लागू की गई है उसका कैंप लगाकर अधिक से अधिक लोगों को पारदर्शिता के साथ लाभान्वित कराया जाए। विद्युत की समस्या में सुधार कराएं। विद्युत व्यवस्था को लेकर किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। इस मौके पर प्रभरी मंत्री ने विभिन्न योजनाओं की बिंदुवार समीक्षा की। बैठक में संबंधि्ेत अधिकारी मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages