दम्पति की अर्थी एक साथ निकली तो हर आंख रोई - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, June 7, 2022

दम्पति की अर्थी एक साथ निकली तो हर आंख रोई

बेसहारा हो गए तीन बेटे

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। मप्र के पन्ना जिले में हुई दुर्घटना में मृत दंपंति समेत तीन लोगों के शव मंगलवार की दोपहर जैसे ही मानिकपुर के आर्य नगर और सुभाष नगर मोहल्ले में आए तो कोहराम मच गया। लोगों की आंखें नम हो गई।

पन्ना जनपद के बृजपुर थाना क्षेत्र में मझगवां के पास सोमवार की दोपहर पौने दो बजे  कार और बोलेरो की टक्कर हो गई थी। हादसे की शिकार आल्टो कार में मानिकपुर कसबे के मोहल्ला आर्यनगर निवासी हरिशंकर गुप्ता (52), उनकी पत्नी ममता (42), सुभाष नगर निवासी चालक विनय गुप्ता (27), हरिशंकर के साले चित्रकूट निवासी वीरेंद्र गुप्ता व बांदा निवासी साढ़ू बृजेश छाबड़ा बैठे हुए थे। हादसे में सभी कार सवारों की मौत हो गई। कार हरिशंकर के भाई की थी। बताया जाता है कि बोलेरा चालक एक साइकिल सवार को कुचलते हुए भाग रहा था। तभी तेज रफ्तार के बीच उसने चित्रकूट की तरफ आ रही आल्टो कार में टक्कर मार दी। मंगलवार की दोपहर

घर में गमगीन माहौल।

हरिशंकर, उनकी पत्नी ममता और चालक विनय का शव मंगलवार की दोपहर करीब तीन बजे मानिकपुर पहुंचा तो हर तरफ चीख पुकार मच गया। मृतक हरिशंकर की सबसे बड़ी संतान बेटी है। जिसकी शादी उन्होंने डेढ़ साल पहले पन्ना जिले में की थी। ससुरालपक्ष का परचून का व्यवसाय है। बेटी की सास की मौत की खबर सभी सोमवार की सुबह पांच बजे कार से निकले थे। लौटते समय पौने दो बजे हादसा हो गया। हादसे के बाद पन्ना पुलिस ने हरिशंकर के भाई मुकेश को कॉल करके हादसे की जानकारी दी थी। कस्बे में चाट का ठेला लगाने वाले हरिशंकर के तीन बेटे राघव (18), राज (17) और कार्तिक (12) हैं। हरिशंकर और उनकी पत्नी ममता की मौत के बाद तीनों बेटे बेसहारा हो गए हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages