अग्निपथ योजना रद्द करने की मांग को लेकर आप ने किया प्रदर्शन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, June 18, 2022

अग्निपथ योजना रद्द करने की मांग को लेकर आप ने किया प्रदर्शन

सेना का मनोबल गिरने व युवाओ का भविष्य निजी हाथों में देने का लगाया आरोप

फ़तेहपुर, शमशाद खान । भारतीय सेना में चार वर्षों की सेवा अग्निपथ योजना के ज़रिए अग्निवीरो की भर्ती को निरस्त करने की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कलेकट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन किया व प्रधानमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौप कर सरकार से योजना को निरस्त करने की मांग किया। शनिवार को सेनाभर्ती को योजना अग्निपथ का विरोध में आम आदमी पार्टी जिलाध्यक्ष श्रीराम पटेल की अगुवाई में कार्यकर्ताआें ने कलेकट्रेट पहुंचकर जमकर नारेबाजी व प्रदर्शन करते हुए सरकार से अग्निपथ योजना को सेना का मनोबल गिराने व युवाओ का भविष्य प्राइवेट कंपनियों के हाथों में दिए जाने का आरोप लगाते हुए योजना को

कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करते आप के कार्यकर्ता।

रद्द कर युवाओं को पूर्ण कालिक भर्ती किये जाने की मांग किया। प्रधानमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी को देते हुए बताया कि भारतीय सेना में चार साल के लिए सैनिकों की भर्ती के लिए लायी गयी अग्निपथ योजना से देश की जनता आक्रोश में हैं। मात्र चार वर्षों के लिए सैनिकों की भर्ती वास्तव में सैन्य भर्ती न होकर एक सिक्योरिटी गार्ड ट्रेनिंग सेंटर होकर रह जायेगी। चार साल तक सेना में रहने के बाद युवा या तो किसी प्राइवेट कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करेगा फिर बेरोजगार की मार से आत्महत्या करने को मजबूर होगा। उंन्होने बताया कि सरकार का यह कदम देश के युवाओं के भविष्य को प्राइवेट कंपनीयों के हाथों में देने के लिए उठाया है। निजी कंपनियों को सरकार फायदा पंहुचा रही है। सरकार के इस निर्णय से देशभक्तों की भावनाओं को चोट पंहुंची है। बताया कि सेना भारत की शान है जो भारत के हर व्यक्ति के लिए गर्व है। ऐसे में सिर्फ प्राइवेट कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए देश की सेना के साथ खिलवाड़ करना पूरी तरह से देश के खिलाफ काम करना है। सरकार का यह तर्क भारतीय सेना और सैनिकों दोनों के साथ विश्वासघात है। सैनिकों को सेवानिवृत्त करने से पेंशन पे आउट कम देना व सैनिकों को कम पेंशन न देनी पड़े। सरकार का यह कुतर्क देश के सभी नौजवानों और देशभक्तों का मजाक है। भारतीय सेना अपने जांबाज सिपाहियों के लिए देश की सेवा और मातृभूमि की सुरक्षा करने का एक सशक्त माध्यम है। इसी देशभक्ति और मातृभूमि की रक्षा के लिए सैनिक हर क्षण अपनी जान न्यौछावर करने को तैयार रहते हैं सरकार का निर्णय सैनिकों की इस भावना और जज्बे को रौंदते हुए मातृभूमि की रक्षा के कर्त्तव्य को सिर्फ 4 वर्षों की कॉन्ट्रेक्ट आधारित नौकरी बनाकर रख दिया। जो कि घोर अपमानजनक कदम है। जिस पर पुनर्विचार करते हुए रद्द किए जाने की मांग किया। इस मौके पर अगम सिंह यादव, धर्मेंद्र मौर्या, मांन सिंह सुशील, मनोज कुमार पाल, राजकुमार सिंह, राजू लोधी, मनोज सिंह, प्रेमसागर व रतिलाल समेत बड़ी संख्या में आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages