काशी विद्वत्परिषद् तैयार करेगा उत्तरप्रदेश पुरोहित कल्याण बोर्ड की नियमावली - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, June 27, 2022

काशी विद्वत्परिषद् तैयार करेगा उत्तरप्रदेश पुरोहित कल्याण बोर्ड की नियमावली

बाँदा, के एस दुबे । सर्किट हाउस वाराणसी में उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से विशेष मुलाकात में श्री काशी विद्वत्परिषद् के महामंत्री प्रोफेसर रामनारायण द्विवेदी के नेतृत्व में विद्वानों के एक शिष्टमंडल ने मिलकर योगी का अभिनन्दन किया और कहा कि उत्तर प्रदेश में पुरोहित कल्याण बोर्ड के गठन की उद्घोषणा से सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश में पुरोहित समाज,विप्र समाज तथा वैदिक कर्मकाण्ड विधा के लोगों में खुशहाली है। प्रोफेसर रामनारायण द्विवेदी ने मुख्यमंत्री  को बताया कि संस्कृत भाषा के उन्नयन हेतु तथा पुरोहित समाज के कल्याण के लिए एक सहज सरल नियमावली बनें जिससे कोई भी गरीब ब्राह्मण पुजारी इसके लाभ से छूट न जाए।इस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने कहा कि मेरे पास अनेक गांवों के पुजारी पुरोहित आंतें हैं। जिनकी पीड़ा से लगता है कि इनका


संरक्षण आवश्यक है। योगी जी ने काशी विद्वत्परिषद के महामंत्री प्रोफेसर रामनारायण द्विवेदी को दायित्व दिया कि आप एक पुरोहित कल्याण बोर्ड का प्राक्प्रारुप तथा नियमावली विद्वानों के साथ मिलकर तैयार करें और विद्वत परिषद सभी से सुझाव मांगे जिसमें संस्कृत भाषा के सम्वर्द्धन के लिए एक दृष्टि हो। तथा सभी सम्प्रदायों पंथों के विचार भी रहे। तभी उत्तर प्रदेश का विकास तथा भारत आदर्श देश बनेगा। क्यों कि देश के मठ मंदिर और पंथ किसी न किसी दर्शन का प्रतिनिधित्व करते हैं।प्रोफेसर द्विवेदी ने कहा कि शीघ्र ही मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार सभी कार्यों का एक प्राकप्रारुप प्रस्तुत किया जायेगा। इसमें प्रमुख रूप से प्रो विनय कुमार पाण्डेय, पं दीपक मालवीय, पं प्रमोद मिश्रा, पं रमण घनपाठी, प्रोफेसर नागेन्द्र पाण्डेय आदि विद्वानों की उपस्थिति रही। शहर दक्षिणी के विधायक डा नीलकंठ तिवारी ने सभी विद्वानों के विषय में अवगत कराया। मुख्यमंत्री  ने कहां कि काशी विद्वत्परिषद् विद्वानों का एक समूह है।प्रोफेसर रामनरायन द्विवेदी बाँदा के अछरौड गांव के निवासी हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages