लापता मासूम बालक का शव बरामद, जाम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, May 8, 2022

लापता मासूम बालक का शव बरामद, जाम

बिना दुल्हन लिए ही लौटी बारात, गम का माहौल 

बबेरू कस्बे के तिंदवारी रोड में हुई घटना में कोहराम 

बबेरू, के एस दुबे । शादी के दौरान लापता हुए मासूम भाई का शव शनिवार की सुबह पानी भरे गड्ढे में क्षत-विक्षत हालत में पड़ा पाया गया। घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। मृतक के पिता का आरोप था कि उसके पुत्र की हत्या करने के बाद शव को गड्ढे में फेंक दिया गया है। घटना से आक्रोशित परिजनों और ग्रामीणों ने हत्या का खुलासा करने के उद्देश्य से सड़क पर जाम लगा दिया। जाम काफी देर तक लगा रहा। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे उच्चाधिकारियों ने किसी तरह समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

मृतक विनोद (फाइल फोटो)

मिली जानकारी के अनुसार कस्बे के तिंदवारी रोड निवासी गुड़िया पुत्री चुन्नू की तीन मई को शादी थी। बारात कैरी कोर्रा गांव से आई थी। बारात की अगवानी के बाद शादी की पहली रस्म में गुड़िया के मासूम भाई विनोद (10) वर्ष को दूल्हे के पैर धुलने के लिए बुलाया गया। लेकिन विनोद का कुछ पता नहीं चला। परिजनों ने उसकी खोजबीन की। विनोद के न मिलने पर शादी की शादी रस्में रोक दी गईं। परिजन रात भर इधर-उधर विनोद की तलाश में जुटे रहे, लेकिन कहीं भी पता नहीं चला। अगले दिन बारात बिना दुल्हन को विदा कराए बिना ही वापस लौट गई। शनिवार को मरका रोड पर वन विभाग के पास सड़क किनारे पानी भरे गड्ढे में औंधे मुंह विनोद का शव क्षत-विक्षत हालत में पड़ा हुआ था। दुर्गंध उठने पर पड़ोसियों ने देखा तो मामले की जानकारी पुलिस को दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह शव को पानी से बाहर निकलाया। सूचना पाकर परिजन भी मौके पर पहुंच गए। परिजनों ने उसे पहचान लिया। घटना से नाराज परिजनों और ग्रामीणों ने खुलासा करने की मांग को लेकर सड़क पर जाम लगा दिया। सूचना पाकर सीओ सत्यप्रकाश शर्मा, कोतवाली प्रभारी अरुण कुमार पाठक मौके पर पहुंच गए। परिजनों को समझाने बुझाने के बाद बमुश्किल एक घंटे बाद जाम खुलवाया। पुलिस ने शव को कब्जे में
बालक की मौत पर जाम लगाए परिजन और ग्रामीण

लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के पिता ने बताया कि उसने छह माह पहले अपनी पुत्री की शादी बिसंडा में तय की थी। बरीछा होने के बाद युवक ने शादी करने से मना कर दिया था। इस दौरान लड़की पक्ष का लगभग 40 हजार रुपया खर्च हो गया था। लड़के वालों ने लड़की पक्ष को 35 हजार रुपया वापस किया था। पिता का आरोप है कि गुड़िया की दूसरी जगह शादी तय करने के बाद अज्ञात नंबरों से उसके पास फोन आते रहे कि बेटी की शादी न करें, वरना परिणाम गलत होंगे। पिता ने बताया कि गुड़िया की शादी करने के दौरान उसके पुत्र को गायब कर दिया गया और उसकी हत्या करने के बाद शव को पानी भरे गड्ढे में भेज दिया गया। कोतवाली प्रभारी अरुण पाठक का कहना है कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages