शहर वासियों को एक और नगरीय स्वास्थ्य केंद्र की सुविधा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, May 11, 2022

शहर वासियों को एक और नगरीय स्वास्थ्य केंद्र की सुविधा

गुलाब बाग स्थित अर्बन पीएचसी ने आयोजित किया कैंप 

70 मरीजों को परामर्श व दवा, घर के नजदीक मिला इलाज

बांदा, के एस दुबे । शहर वासियों को उनके घर के पास ही निशुल्क और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने की मुहिम जारी है। इसीक्रम में शहर में एक और नगरीय स्वास्थ्य केंद्र की संचालित किया गया है। अब शहर में तीन स्वास्थ्य केंद्रों में लोगों को स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराई जा रही है। इसीक्रम में नव संचालित नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गुलाब बाग द्वारा कांशीराम कालोनी निम्नीपार में आउटरीच हेल्थ कैंप आयोजित हुआ। इसमें 70 रोगियों की जांच के बाद उन्हें दवा दी गई। शिविर में लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक भी किया गया।


शिविर की शुरुआत करते हुए मंडलीय समन्वयक शहरी स्वास्थ्य डीपी सिंह ने कहा कि शहर में आजाद नगर व छाबी तालाब में स्वास्थ्य केंद्र संचालित थे। स्वास्थ्य को लेकर संजीदा प्रदेश सरकार से स्वीकृति मिलने के बाद शहर के गुलाब बाग में एक और नगरीय स्वास्थ्य केंद्र संचालित हो गया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से मलिन बस्तियों में ऐसे स्वास्थ्य शिविर लगने से लोगों की सेहत सुधरेगी। चिकित्सक डा. श्रुति सक्सेना ने कहा कि भीषण गर्मी व हीट वेव के कारण डायरिया सहित बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है। उन्होंने मरीजों की जांच कर उनका उपचार किया। साथ ही कोविड सहित अन्य बीमारियों से बचाव के लिए अपने सुझाव दिए। 

शहरी स्वास्थ्य समन्वयक प्रेमचंद्र पाल ने कहा कि यहां से दोनों नगरीय स्वास्थ्य केंद्र दूर होने की वजह से लोग नहीं पहुंच जा रहे थे। इसलिए गुलाब बाग में शहरी स्वास्थ्य केंद्र संचालित किया गया है। इससे गुलाब बाग, खाईपार, मर्दननाका, हरदौल तलैया, ऊंट मोहाल, अलींगज, कुशवाहा नगर इत्यादि मोहल्लों के लोग आसानी से स्वास्थ्य सेवा का लाभ ले सकेंगे। आयोजित आउटरीच कैंप में टीबी, डायबिटीज, हाईपरटेंशन, मानसिक रोग, स्वांस रोग, कैंसर की स्क्रीनिंग, निराश्रित वृद्ध लोग एवं अन्य महामारी/बीमारियों का चिन्हिकरण किया जाता है। इस क्षेत्र में हर माह आउटरीच कैंप लगेंगे।  शिविर में 70 लोगों का इलाज हुआ। इसमें पेट की समस्या, एलर्जी, बुखार, बदन दर्द, खांसी, जुकाम आदि के मरीज रहे। गर्भवती महिलाओं, ब्लड, शुगर व बीपी इत्यादि की जांच की गई। इस मौके पर तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम की कुलसुम हाशमी, लैब टेक्नीशियन रितेश कुमार, एएनएम ऊषा सिंह, आशा कार्यकर्ता मदीना, स्वास्थ्य कर्मी विनीत कुमार इत्यादि शामिल रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages