- Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, May 8, 2022

 डायरिया हावी, दो दर्जन से ज्यादा लोग हुए बीमार 

- सीएचसी अतर्रा के साथ ही जिला अस्पताल में हो रहा उपचार 

- मजबूरन प्राइवेट अस्पतालों का भी लोग ले रहे हैं सहारा 

फोटो नंबर-06, 07, 08 :  

बदौसा, के एस दुबे । अतर्रा तहसील के बदौसा थाना क्षेत्र के वकीलनपुरवा गांव में डीयरिया का प्रकोप जोरों पर चार   घंटे में एक मरीज निकल रहा अब तक डायरिया नें गांव के 30 लोगों अपनी चपेट में ले लिया है जो सीएचसी तथा जिला अस्पताल बांदा व प्राईबेट में जिन्दगी और मौत से जूझ रहे हैं।

अस्पताल में भर्ती डायरिया पीड़ित मरीज

मालूम हो कि तुर्रा मौजे के मजरा वकीलन पुरवा, थाना बदौसा तहसील अतर्रा जिला बांदा में 2-3 दिनों से डायरिया की बीमारी ने पैर जमा लिया है, अब तक 30 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं हर 4 घंटे में एक नया केश हो रहा है। चनकी 25 वर्ष पत्नी मातादीन, प्राची 1 वर्ष पुत्री मातादीन, निराशा 20 वर्ष पुत्री द्वारिका, अशोक 15 वर्ष, नीरज 13 वर्ष पुत्रगण चुनबाद,बद्री 55 वर्ष पुत्र अंगनू,दिलीप 27 वर्ष पुत्र  बद्री , दीपक 4 वर्ष पुत्र लवकुश, अभिलाषा 22 वर्ष पुत्री लवकुश, लवकुश 25 वर्ष पुत्र रामविसाल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अतर्रा में भर्ती है। बैजनाथ 70 वर्ष पुत्र प्यारे


लाल, फूलमती 45 वर्ष पत्नी रामकिशोर, तुलसा 55 वर्ष पत्नी किशोरी लाल, किशोरी लाल  58 वर्ष पुत्र रामेश्वर, अन्जली 4 वर्ष पुत्री प्रदीप, उपासना 12 वर्ष पुत्र राजकुमार को सीएचसी से गम्भीर हालत में जिला अस्पताल बांदा रेफर कर दिया गया है जहां जिन्दगी और मौत से संघर्ष कर रहे हैं। अभिलेश 40 वर्ष पुत्र जगन्नाथ, शीलू 18 वर्ष पुत्र राममिलन, अर्जुन 12 वर्ष पुत्र विनोद,पुनिया 55वर्ष वेवा लक्ष्मी प्रसाद, पार्वती 40 वर्ष पत्नी ब्रजेश, रोशनी 16 वर्ष पुत्री ब्रजेश, बिट्टन 42 वर्ष पत्नी रामस्वरूप, अनन्या 4 वर्ष रामपाल, पूजा 24 वर्ष पत्नी दिलीप, तुलसा 48 वर्ष पत्नी राममिलन, राखा 22 वर्ष राजेश, प्रेमचन्द्र 26 वर्ष पुत्र राममिलन, प्रिया 3 वर्ष पुत्री दिलीप डायरिया की चपेट में नये मरीज आये हैं। यह प्राईबेट अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं। वकीलन पुरवा के लोगों का सरकार की लचर स्वास्थ्य

सेवाओं का आरोप है, सीएचसी में एक ग्लूकोज की बाटल चढ़ा कर मरीजों को अस्पताल से घर भेजे जाने और घर आते ही उल्टी दस्त होने से पूरे गांव में हर चार घंटे मे एक नये ब्यक्ति के डायरिया अपने चपेट में ले रहा है। डारिया का प्रकोप से परेशान हैं लोग हर चार घंटे में मरीज निकल रहे हैं मरीज जिला अस्पताल और अतर्रा सीएसी तथा कुछ प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती हैं। डायरिया का प्रकोप अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है। गांव के लोग बहुत चिन्तित और परेशान हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages