टिकैत बंधुओं ने महात्मा टिकैत के आदर्शों से किया सौदा : राजेश - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, May 20, 2022

टिकैत बंधुओं ने महात्मा टिकैत के आदर्शों से किया सौदा : राजेश

घोषणा पत्र की मांगे पूरी न हुई तो बीजेपी के खिलाफ होगा बड़ा आंदोलन

भाकियू अराजनैतिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष का जिले में हुआ भव्य स्वागत 

फतेहपुर, शमशाद खान । टिकैत बंधुओं ने महात्मा टिकैत के आदर्शों व सिद्धांतों से सौदा किया है जिसकी वजह से उन्हें अलग संगठन बनाना पड़ा। बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में किसानों के लिए की गई घोषणाओं को यदि पूरा न किया तो पूरे प्रदेश में बीजेपी के खिलाफ बड़ा आंदोलन किया जाएगा। 

यह बात शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश सिंह चौहान ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद प्रथम जनपद आगमन पर सबसे पहले असनी पुल पर कार्यकर्ताओं ने उनका फूल-माला पहनाकर स्वागत किया। तत्पश्चात उनका काफिला हुसैनगंज, सातमील,

नहर कालोनी प्रांगण में राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश सिंह चौहान का स्वागत करते किसान।

बेरागढ़ीवा पहुंचा। जहां किसानों ने उनको व प्रदेश अध्यक्ष हरिनाम वर्मा को फूल-मालाओं से लाद दिया। यहां से काफिला सीधे शहर की ओर बढ़ा और शहर के वर्मा चौराहा होते हुए नहर कालोनी पहुंचा। जहां एक बार फिर किसानों ने अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष को फूल-मालाओं से लाद दिया। स्वागत के पश्चात पत्रकारों से बातचीत करते हुए श्री चौहान ने कहा कि राकेश टिकैत और नरेश टिकैत का कुल संगठन में काम करने का अनुभव केवल ग्यारह साल का है। वहीं उन्होंने अपने अनुभव के बारे में बताते हुए कहा कि उनका इस संगठन को खड़ा करने में 75 फीसदी योगदान रहा। बताया कि उनको इस संगठन में काम करने का करीब 33 साल का अनुभव है। ऐसे में आप ही बताएं कि सीनियर कौन है। उनके लखनऊ कार्यालय के बकाए बिजली के बिल के बारे में कहा कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है हालांकि उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष को इस बारे में जानकारी के लिए भेजा था लेकिन कार्यालय बंद था। साथ ही उन्होंने बीजेपी को तगड़ा अल्टीमेटम दिया उन्होंने कहा कि बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में किसानों से जुड़ी हुई जितनी भी घोषणा की थी उन्हें जल्द से जल्द पूरा करें नहीं तो देश और प्रदेश स्तर पर बीजेपी के खिलाफ एक बड़ा आंदोलन खड़ा किया जाएगा। उन्होंने टिकैत बंधुओं पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने महात्मा टिकैत के आदर्शों और सिद्धांतों से सौदा किया। जिसके चलते उन्हें दूसरा संगठन बनाना पड़ा। पश्चिम में उनका संगठन पूरी तरीके से मजबूत है और आने वाले वक्त में वह देश भर में अपने संगठन को खड़ा करेंगे। इस मौके पर हरिदत्त पांडेय, राजकुमार सिंह गौतम, राजेंद्र सिंह, प्रीतम सिंह, सुरेंद्र पटेल, दीपक गुप्ता, जितेंद्र, उदय प्रताप सिंह मुन्ना, दीपू सिंह, धीरेंद्र सिंह, सोनू सिंह, बउवन शुक्ला, वीरेंद्र भदौरिया सहित तमाम किसान मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages