राशन वितरण न होने से आमजन हलाकान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, May 17, 2022

राशन वितरण न होने से आमजन हलाकान

डीएसओ ने कहा-इसी सप्ताह से वितरण शुरू होने की है उम्मीद

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिले में मई माह का राशन वितरण न होने से आमजन हलाकान हैं। लगातार जिला आपूर्ति विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों और कोटेदारों के फोन कर रहे हैं। हर बार यही कहा जाता है कि गेहूं, चावल व नमक तो उपलब्ध है, लेकिन तेल नहीं मिला है। जिससे वितरण प्रणाली रूकी है।

 राशन वितरण न होने से आमजन हलाकान

हर माह निशुल्क मिलने वाली राशन सामग्री मई माह में अब तक किसी को नहीं मिली है। इसे लेकर प्रतिदिन दर्जनो लोग कोटेदारों की दुकानों के चक्कर लगाते हैं। कई लोग कोटेदार को फोन से जानकारी ले रहे हैं। कुछ नेता विभागीय अधिकारियों से वितरण न होने की जानकारी लेते हैं लेकिन जब वहां से जवाब मिलता है कि अभी पूरी सामग्री ही उपलब्ध नहीं हुई है तो फिर नेतागण फोन काट देते हैं। इस संबध में जिला पूर्ति अधिकारी बीके महान ने बताया कि वितरण पर न कोई रोक है और न कोई नई गाइड लाइन है। गेहूं चावल व नमक आदि तो गोदाम में उपलब्ध है और ज्यादातर कोटेदारों को इसका वितरण किया जा चुका है। सिर्फ तेल का स्टाक नहीं आ पाया है। इसके लिए जिलाधिकारी ने भी संबधित एजेंसी को पत्र लिखा है। वह खुद भी वितरण जल्द कराने का प्रयास कर रहे हैं। उम्मीद है कि इसी सप्ताह से वितरण शुरु हो जाएगा।

रोजाना करीब 50 राशनकार्ड हो रहे सरेंडर

चित्रकूट। शासन के नये निर्देश के अनुसार जिले में राशन कार्ड सरेंडर करने के लिए प्रतिदिन विभागीय कार्यालय के पास भीड़ लग रही है। सुबह से सरकारी नौकरी या सुविध संपन्न कार्डधारक हलफनामा बनवाने के साथ सरेंडर के लिए प्रार्थना पत्र लिखाने के लिए मौजूद दिख रहे हैं। एक शिक्षक ने बताया कि उनकी पत्नी के नाम कार्ड है और वह भी नौकरी करने लगी हैं तो ऐसे में कार्ड सरेंडर करना है। जिला पूर्ति अधिकारी बीके महान ने बताया कि प्रतिदिन औसतन आधा सैकड़ा लोग राशनकार्ड सरेंडर कर रहे हैं। अब तक जिले में लगभग एक हजार कार्ड सरेंडर हो चुके हैं। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages