जाति से नहीं उनकी सोच उनकी नीति और उनके कार्य का विरोध ............................ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, May 5, 2022

जाति से नहीं उनकी सोच उनकी नीति और उनके कार्य का विरोध ............................

(लेखक ओ पी सैनी के अपने विचार)

......................... हिंदू है हमें गर्व है हिंदू कभी भी आक्रामक नहीं हुआ है ना रहा है इतिहास गवाह है, परंतु जब हिंदू का अस्तित्व खतरे में पड़ जाता है और यह कुछ वर्षों के पूर्व जब पुरानी सरकारें थी स्पष्ट तौर पर देखा और सुना और पाया है, आज देश के कुछ राज्य से हैं जहां पर आज हमें लगता ही नहीं कि हम हिंदुस्तान में है जम्मू कश्मीर आज से मोदी जी की सरकार के पूर्व क्या हालात है कश्मीर भारत का अंग होते हुए भी वहां झंडा भारत का नहीं लगता था पाकिस्तान के झंडे लहराते थे आज स्थित बहुत सुधर गई है आज देश के मुसलमान भाई जिस तरह से मोदी और योगी को हटाने के लिए वोट देते हैं अपना मतों का प्रयोग करते हैं वह आंकड़े बताते हैं यह बिल्कुल पसंद नहीं करते ना केंद्र की सरकार को ना हो पर प्रदेश की सरकार को क्योंकि आज हिंदू और हिंदुत्व की रक्षा हो रही है और जो भारत पाकिस्तान अफगानिस्तान बांग्लादेश ईरान इराक सब भारत में ही आता था धीरे-धीरे संख्या बढ़ती गई देश बढ़ते गए अगर भारत की सरकार ध्यान नहीं दिया देश के लिए आने वाले समय में क्या एक


पाकिस्तान और मांग सकते हैं यह विषय है बहुत जटिल इसलिए 70 साल में जो पूर्व सरकारों ने किया उन्होंने देश को बर्बाद करके रख दिया आज मौका है अच्छे और निडर और निर्भीक ईमानदार व्यक्ति के हाथों में देश और प्रदेश है असुरक्षित है और सब लोग सचेत हो जाओ समझो अपने अस्तित्व को बचाओ हिंदू हो हिंदू के भाव को जगाओ जातियों में ना बैठो यह संदेश हर जन जन तक पहुंचाओ तभी हिंदू महत्व को समझेंगे और मजबूत हो इस देश में लगभग 700-800 वर्ष तक मुसलमान होना एक प्रिविलेज रहा है।

यह फ़ायदा धीरे धीरे अगले 25 वर्ष में बदलकर घाटे का सौदा होता जाएगा। आप जहांगीरपूरी के घटना भर से इस परिवर्तन को देखना बंद मत करिए। मुसलमान यह मानकर चलता है की गुंडागर्दी, दंगा और क़ब्ज़ेबाज़ी उसका साधारण जन्मसिद्ध अधिकार है। हिंदू भी 10-15 वर्ष पूर्व तक यह मानकर चलता था। अब संक्रमण काल है। इस्लाम के जिस भार से हिंदुत्व का स्प्रिंग दबा हुआ था मोदी ने आकर उसको एक एक कर के हटा दिया है। जो भी परिवर्तन आप देख रहे हैं वह सब मोदीजनित राजनीतिक परिवर्तन है।राम मंदिर, काशी विश्वनाथ, धारा 370, राष्ट्रीय सुरक्षा, स्वतंत्र विदेश नीति, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, उत्तराखंड, आसाम से लेकर पूर्वोत्तर के अन्य राज्यों में हिंदुवादी सरकारों की वापसी उस क्रांति के बड़े बिंदु हैं। अजान के बदले हनुमान चालीसा, रामनवमी पर जुलूसों का संचालन, हनुमान जयंती पर मुस्लिम इलाक़ों में भी जुलूस का हिम्मत करना, ट्रिपल तलाक़ की समाप्ति, विदेशी संस्थाओं का पंजीकरण रद्द करना, श्रीलंका से लगाकर अफगानिस्तान तक की भारत पर निर्भरता उसी परिवर्तन के छोटे छोटे बिंदु हैं।इस देश में इस्लाम का स्थायी अस्तित्व तभी तक होगा जब तक मुसलमान होना फ़ायदे का सौदा होगा। जैसे जैसे मुसलमान होना घाटे का सौदा होता जाएगा, इस्लाम का अस्तित्व हिलने लगेगा। जिनको देखकर आपको लगता है की ये हिंदुत्व के दुश्मन हैं, वहीं अपना DNA याद करके हिंदू होने को तत्पर होंगे।हमारे ही समाज के स्वार्थी, डरपोक और कुछ मजबूर लोग उधर गए थे। फ़ायदा दिखा तो उधर ही टिक गए। वस्तुतः ये सुविधावादी और डरपोक लोगों का जमावड़ा है। ये आपको हिम्मती लग सकते हैं, पर ये हैं नहीं। हाँ, ये घात लगाकर हमला करने वाले लोग हैं, भीड़ में लड़ने वाले हैं।

हिंदुत्व किसी भी अनेकतावादी भटकाव से दूर रहा तो यही लोग आपकी तरफ़ आएँगे। फ़िलहाल इनके भीतर की जेहादी आबादी, हिंदुस्तान और हिंदुओं की खुली दुश्मन है। भय के बिना यह प्रीति योग्य नहीं बनेंगे। यदि यह ये धमकी देते हैं की हमारे 56 देश हैं तो यह याद रखिए की इनके सभी 56 देशों की कुल सेना और अस्त्र शस्त्र अकेले भारत की सेना और अस्त्र शस्त्र के बराबरी के भी नहीं हैं। फिर तो इनके दुश्मन यहूदी और ईसाई भी हैं। धैर्य रखिए, छोटी छोटी बातों से डरिये नहीं। जो अपने हैं उन्हें और अपना बनाइए।जिस दिन इस देश में मुसलमान होना एक आशीर्वाद के बजाय मुकम्मल श्राप अभी नहीं तो कभी नहीं ::: विनम्र अनुरोध है::::::: कि हिंदुओं को जगाने का हम में से हर एक व्यक्ति बीड़ा उठाएं तभी देश मजबूत होगा अखंड भारत होगा और हिंदू राष्ट्र घोषित होगा देश को हिंदू राष्ट्र चाहिए यह वर्तमान सरकार ही कर सकती है l

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages