कथा के अंतिम दिन भक्तिरस में डूबे श्रद्धालु - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, May 21, 2022

कथा के अंतिम दिन भक्तिरस में डूबे श्रद्धालु

खागा/फतेहपुर, शमशाद खान । धाता ब्लॉक के अंतर्गत चल रही श्रीमद्भागवत कथा के चतुर्थ दिवस पर भगवान श्री कृष्ण का जन्मोत्सव बड़े ही हर्षाल्लास के साथ भक्तों ने मनाया। पंचम दिवस पर भगवान ने दुराचारी कंस मामा का वध किया। इसी के साथ सप्तम दिवस पर भगवान श्री कृष्ण और माता रुक्मणी  एवं उनके सोलह लाख गोपियों का विवाह महोत्सव में भक्तों ने बहुत ही ज्यादा उत्साह एवं भाव के साथ मनाया। 

कथा में प्रवचन करती भक्ति त्रिपाठी।

कथा वाचक भक्ति त्रिपाठी ने परीक्षित मोक्ष कथा कहकर हजारों भक्तों को भाव उदित किया। श्री कृष्ण के जन्मोत्सव से लेकर दुराचारी कंस वध, रुक्मणी विवाह के साथ श्री कृष्ण की लीलाएं प्रस्तुत की गई। इस धार्मिक अनुष्ठान के सातवें एवं अंतिम दिन भगवान श्री कृष्ण के सर्वापरी लीला श्री रास लीला, मथुरा गमन, दुष्ट कंस राजा के अत्याचार से मुक्ति के लिए कंसबध, कुबजा उद्धार, रुक्मणी विवाह, शिशुपाल वध एवं सुदामा चरित्र का वर्णन कर लोगों को भक्तिरस में डुबो दिया। कार्यक्रम में शिव कुमार, अजय कुमार, अनिल बाजपेयी, अरुण कुमार, तरुण तिवारी, प्रीति, प्रियंका, ज्योति, आशीष, धीरेन्द्र, ऋषि बाजपेयी, प्रशांत, अमित, अंकित भी मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages