मां कालिंदी के संरक्षण में रक्त की एक-एक बूंद समर्पित : प्रवीण - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, May 20, 2022

मां कालिंदी के संरक्षण में रक्त की एक-एक बूंद समर्पित : प्रवीण

बीआरएस स्वयं सेवकों ने अवैध मोरंग खनन के खिलाफ छेड़ी मुहिम

मुख्यमंत्री को खून से पत्र लिखकर अवैध खनन रोकने की उठाई मांग 

खागा/फतेहपुर, शमशाद खान । ऐरायां ब्लाक के हरदो गांव में बुंदेलखंड राष्ट्र समिति के स्वयं सेवकों ने शुक्रवार को आवश्यक बैठक करते हुए अवैध खनन मुद्दे पर विस्तृत रूपरेखा तैयार की। स्वयंसेवकों ने सर्वप्रथम प्रकृति के सुकुमार कवि सुमित्रानंदन पंत की 122 वीं जयंती पर उन्हे नमन किया। समिति के केंद्रीय अध्यक्ष प्रवीण पांडेय ने कहा कि पंत जी प्रकृति प्रेम के कवि थे। मानवीय भावनाओं से अपने कविताओं को अद्भुत तरीके से उन्होंने सजाया।

सीएम को खून से लिखे गए पत्र दिखाते समिति के पदाधिकारी।

किशनपुर व धाता थाने के गांवों में संचालित मोरंग खदानों पर नियमों की धज्जियां उड़ाकर जारी खनन को लेकर स्वयंसेवकों ने चिंता जाहिर की। स्वयंसेवकों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खून से पत्र लिखकर खनन माफियाओ से नदी, जल, जलीय जीव, सड़क, खेत-खलिहान व किसानों के संरक्षण की मांग की। स्वयंसेवकों ने पत्र के माध्यम से मुख्यमंत्री को बताया कि जनपद के सभी खनन खंडों में संचालकों द्वारा एनजीटी नियमो के विरुद्ध काम किया जा रहा है। नदी की जल धारा रोककर बड़ी बूम वाली मशीनों से दिन-रात मोरंग खनन होता है। नास्त्रोदमस त्रिपाठी राजा ने खदानों तक आने-जाने वाहनों से उड़ती धूल से बर्बाद होती किसानों के फसलों को बचाने की मांग की। गंगा समग्र के जिला सह संयोजक राम प्रसाद विश्वकर्मा ने लिखा कि अवैध खनन, ओवरलोड वाहनों की वजह से सरकार को करोड़ों के राजस्व का नुकसान होता है। साथ ही यमुना तटवर्ती गांवों की बदहाली बढ़ती जा रही है। एबीवीपी के अक्षय ने बरसात से पहले सड़कों की मरम्मत कराए जाने की बात पत्र में लिखी। एबीवीपी के सुशांत ने मानक विहीन खनन से मां कालिंदी की प्राकृतिक संरचना बिगड़ने की बात पत्र में लिखकर दी। बच्चा तिवारी ने ओवरलोड ट्रकों से हो रही मार्ग दुर्घटनाओं व ध्वस्त होती सड़कों की ओर मुख्यमंत्री का ध्यान दिलाया। मानस तिवारी, गगन तिवारी, महान बाजपेई, अमित वर्मा, रवि वर्मा, महेंद्र सिंह आदि ने मुख्यमंत्री को खून से पत्र लिखकर गंभीर समस्याओं की ओर ध्यान दिलाया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages