चांद का दीदार करते ही ईद की खुशियों में लगे पंख - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, May 2, 2022

चांद का दीदार करते ही ईद की खुशियों में लगे पंख

चांदरात पर बाजारों में उमड़ी खरीददारों की भीड़ 

आज ईदगाह में आठ बजे होगी नमाज 

फतेहपुर, शमशाद खान । रमजान के 30 वें दिन चांद का दीदार करते ही रोजदार खुशी से झूम उठे और एक-दूसरे को चांद की मुबारकबाद देने का सिलसिला शुरू हो गया। मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में चांद देखते ही आतिशबाजी व गोले दागे गए। ईद की तैयारियां यूं तो रमजान माह के आधे रोजे पूरे होने के बाद शबाब पर पहुंचने लगती है लेकिन चांद निकलने के बाद ईद की तैयारी को अंतिम रूप देने के लिए बाजार में जो हुजूम लोगों का उमड़ता है तो भीड़ देखते ही बनती है। खरीददारी करने के लिए हर दुकान में महिलाएं और पुरूष जमा रहे। न महंगाई का असर दिखाई दिया और न सस्ते, महंगे सामान की फिक्र रही। फिक्र रही तो सिर्फ इस बात की कहीं कोई सामान लेने से छूट न जाए। चांदरात में दुकानदारों की चांदी रही। कल (आज) ईदगाह में साढ़े सात बजे ईद की नमाज अदा की जाएगी। 

ईद के चांद का दीदार कर दुआ मांगता परिवार एवं लाला बाजार में सेंवई की खरीददारी करते लोग।

सोमवार को ईद के चांद का दीदार करने के बाद ईद की तैयारी में जो सामान खरीदने से रह गया था। उसे खरीदने के लिए चौक बाजार एवं मुस्लिम चौक में लोगों का हुजूम उमड पडा। सिलाई की दुकानों में सिलकर तैयार हुए कपड़ों को लेने के लिए लोगों की लाइन लगी रही। वहीं रेडीमेट गारमेन्टस में सिले सिलाए कपड़ों की खरीददारी करने के लिए युवाओं का तांता लगा रहा। जींस, टीशर्ट, शर्ट के साथ नए फैशन के कुर्ते युवाओं का आकर्षण रहे। वहीं कपड़ों के साथ-साथ जूता, चप्पल व बेल्ट की खरीददारी के लिए भी ऐसे भीड़ लगी रही। चूड़ी गली में चूडियों से लेकर सभी श्रृंगार सम्बन्धित सामग्रियों की खरीद के लिए महिलाओं का रेला रहा। खुशियों के पर्व ईद पर नई वेशभूषा के साथ ही मुख्य पकवान की सामग्री की दुकाने भी काफी सजी रहीं। जिसमे लोगों की भीड़ देर रात तक लगी रही। सेंवई, सूतफेनी, चीनी, मेवा, खोवा, दूध आदि की खरीददारी देर रात तक चलती रही। उधर शहरकाजी अब्दुल्ला शहीदुल इस्लाम ने बताया कि कल (आज) ईदगाह में ईदुल फित्र की नमाज साढ़े सात बजे अदा कराई जाएगी। उन्होने सभी नमाजियों से समय का ख्याल रखते हुए ईदगाह पहुंचने की अपील की।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages