शायर मुनव्वर राणा क्या अपने वक्तव्य पर कायम है यह नहीं ?......................... - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, April 5, 2022

शायर मुनव्वर राणा क्या अपने वक्तव्य पर कायम है यह नहीं ?.........................

देवेश प्रताप सिंह राठौर 

(वरिष्ठ पत्रकार)

.......... देश विदेशों में ख्यात प्राप्त कर बहुत नाम कमाया बहुत शोहरत के साथ पैसा भी कमाया जिनका नाम है शायर मुनव्वर राणा मुनव्वर राणा ने योगी जीकि सरकार दोबारा सत्ता में आई तो उत्तर प्रदेश छोड़ने की बात शायर मुनव्वर राणा ने की थी अब उत्तर प्रदेश के लोग उनसे जानना चाहते हैं क्या मुनव्वर राणा अपने वक्तव्य पर कायम हैं, वैसे एक बात तो सही है मुसलमान अपनी जवान का धनी होता है ऐसा मैंने किताबों में पढ़ा है किताबों में लिखी हुई चीज झूठ नहीं होती है, इसलिए मुनव्वर राणा अपने वक्तव्य पर लोगों की भावनाओं का आदर करते हुए उत्तर प्रदेश अवश्य छोड़ेंगे ऐसा उत्तर प्रदेश के लोगों को विश्वास है इस समय शायर मुनव्वर राणा अस्वस्थ अवस्था में हैं अस्वस्थ हैं या नहीं है या नाटक बनाए हुए हैं यूपी से जाने का जो वक्तव्य दे दिया उल्टा पड़ गया यह मेडिकल बोर्ड


तय करेगा या दोबारा सत्ता में योगी की सरकार आ गई है इसलिए बीमार पड़ गए हैं बहुत से प्रश्न उठ रहे हैं उन सभी प्रश्नों के बीच एक सबसे बड़ा प्रश्न है क्या मुनव्वर राणा उत्तर प्रदेश से अपने दिए गए वक्तव्य पर कायम होंगे या नहीं यह प्रश्न उत्तर प्रदेश की जनता कर रही है, इसका जवाब मुनव्वर राणा ही देंगे और उत्तर प्रदेश छोड़ेंगे कि नहीं छोड़ेंगे पाकिस्तान जाएंगे मुस्लिम कंट्री अरब कंट्री के किस देश में जाएंगे यह उनके विवेक के अनुसार वह सोचेंगे जहां वह सुरक्षित अपने को समझें क्योंकि जब से योगी जी की मोदी जी की सरकार आई है फिल्मीस्तान से लेकर नेता अभिनेता राजनेता लेकर शायर से लेकर नेता तक अपने को असुरक्षित समझ रहा है जबकि सात 8 सालों में सबसे सुरक्षित मुसलमान अगर कभी रहा है तो इन 8 सालों में जब से केंद्र में मोदी जी की सरकार रही है यूपी में योगी जी की सरकार मैंने ऐसा सुना है कि मुसलमान  यह लोग बहुत ही कट्टर होते हैं,ऐसा नहीं कि मेरे दोस्त मुसलमान है बहुत हैं घरेलू व्यवहार है ईद में जाता हूं मिलता हूं ,लेकिन जहां गलत होता है वहां लिखता भी हूं , एक धारणा है हर इंसान की आप भी जानते हम भी जानते हैं और सभी जानते हैं और हिंदू कभी कट्टर नहीं होता है हिंदू हमेशा उदारवादी होता है, कभी उसके घर एक चाकू भी अच्छा सा नहीं दिखाई देगा सब्जी काटने वाला और उनके यहां चाकू भी ऐसे होंगे जो हाथ में ले ले तो हवा निकल जाए यह सब चीजें हैं, बहुत ही सोचने की चीजें हैं इस तरह के वक्तअब नहीं होने चाहिए जिस तरह से हो रहे हैं लेकिन सोच को बदला नहीं जा सकता कौन कहां अधिक सुरक्षित है यह विश्व जानता है। प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आ चुके हैं।और सरकार का गठन भी हो गया है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी बन गए हैं  इसी बीच ऐसे व्यक्तियों की भी चर्चा शुरू हो गई है जिन्होंने चुनाव के दौरान विवादित बयान दिए थे। यूपी में भाजपा की प्रचंड जीत पर जहां कार्यकर्ता और नेता खुशी मना रहे हैं तो वहीं शायर मुनव्वर राणा को लोग ट्रोल कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि नतीजे सामने आने के पहले ही मुनव्वर राणा बीमार हो गए और उनका इलाज चल रहा है।

मुनव्वर राणा ने हाल ही में कहा था कि यूपी में अगर योगी आदित्यनाथ फिर से मुख्यमंत्री बने तो मैं राज्य छोड़ दूंगा और ये भी मान लूंगा की ये राज्य मुसलमानों के रहने लायक नही है अब तो मुनव्वर राणा को अपनी जवान की कदर करते हुए सच्चा मुसलमान वही होता है जो कहता है जवान के धनी होते हैं अब मुनव्वर राणा को उत्तर प्रदेश छोड़ देना चाहिए क्योंकि उन्हीं के वक्तव्य है उसका पालन भी उन्हीं को करना चाहिए मुनव्वर राणा ने ओवैसी की पार्टी के यूपी में चुनाव लड़ने पर कहा कि भाजपा और AIMIM दोनों एक दूसरे के खिलाफ सिर्फ दिखाने के लिए चुनाव लड़ रही हैं. ओवैसी की पार्टी के यूपी में चुनाव लड़ने पर कहा कि भाजपा और AIMIM दोनों ऐसी पार्टियां हैं, जो एक दूसरे के खिलाफ सिर्फ दिखाने के लिए चुनाव लड़ रही हैं,जबकि दोनों सूबे में वोटों का मजहबी आधार पर ध्रुवीकरण करना चाहती हैं, मुनव्वर राणा ने उत्तर प्रदेश की नई जनसंख्या नीति को लेकर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ पर तंज कसा उन्होंने कहा, सीएम योगी अगर शादीशुदा होते तो वे जनसंख्या कानून लाने से पहले सोचते इस तरह की बात मुनव्वर राणा ने करके यह दर्शा दिया कि उन्हें भाजपा से इतनी नफरत है विशेष कर हिंदुओं से कितनी नफरत है यह स्पष्ट तौर पर मुनव्वर राणा ने दर्शा दिया आपको बताते चलें मुनव्वर राणा जब शायरी करते हैं तो सबसे अधिक हिंदू ही लोग उन्हें सुनने के लिए जाते हैं परंतु उन्हें यह नहीं मालूम हिंदुस्तान जैसा सुरक्षित देश मुसलमानों के लिए कोई और है ही नहीं मुस्लिम कंट्री यों के हाल देखिए क्या है इराक सीरिया लीबिया पाकिस्तान यहां पर देखिए क्या स्थित है मैंने कई एक मुसलमान भाइयों के मुख से सुना है कि भारत में जितनी हम लोगों की इज्जत है मुस्लिम कंट्री ओं में वहां पर हमारी क्या इज्जत होती है वहां के रहने वालों की क्या इज्जत है हम बता नहीं सकते हमारा भारतवर्ष बहुत अच्छा है। एक बात और आपसे कहना चाहता हूं आजादी के बाद अगर सबसे असुरक्षित रहा है तू हिंदू कश्मीर में भारत का अंग होते हुए भी इस तरह हिंदू पंडितों का कत्ल हुआ है काश्मीर फिल्म्स से में देख सकते हैं। उस समय हमारे देश के पंडित हिंदुओं ने कभी यह नहीं कहा कि हिंदुस्तान छोड़कर हम चले जाएंगे हिंदुस्तान में हम सुरक्षित नहीं हैं आप लोगों ने इस बेरहमी से असहाय लोगों की इज्जत लूटी हत्या की क्या से क्या नहीं किया अधिक पर्स नहीं हुए हैं मात्र 31 वर्ष पहले की घटना है और समय किसकी सरकार थी कभी कोई कार्यवाही हुई 31 साल बाद अगर किसी ने हिंदू पंडितों के अत्याचार पर अगर फिल्म बनाई है तो उसको मारने की धमकी दी जा रही है अगर सत्य बता कर देश के सामने कोई रखना चाहे तो उसे आप लोग दब आएंगे ऐसा हरगिज नहीं होने दिया जाएगा 31 वर्ष पूर्व जिस तरह हिंदू पंडित के ऊपर अत्याचार हुए अब इसकी पुनरावृत्ति ना कभी होगी क्योंकि सबसे बड़ा कलंक इस देश के लिए जो लगा था कश्मीर में धारा 370 आर्टिकल 35a यह देश के 56 इंच के सीने में एक झटके से हटा दिया अब इस देश को 56 इंच का सीना और उत्तर प्रदेश को बुलडोजर बाबा प्राप्त हो गए हैं अब कोई भी नियमों के विपरीत कार्य करने की जरूरत ना करें चुनाव के पहले की बात है मैंने कई समाजवादी पार्टियों के छोटे भैया नेताओं के मुख से सुना सरकार आने दो फिर सारा हिसाब होगा इस धारणा से किसी की सरकार बनी है और ना कभी बनेगी राजनीति में राजनीति इस तरह होनी चाहिए जिसमें खून का धब्बा ना लगे सच साफ राजनीति के साथ जनता के समक्ष जाएं और चयन होने पर जनता के द्वारा आप सरकार के हिस्सेदार बने परंतु गुंडागर्दी से ना किसी की सरकार बनी है और ना कभी बनेगी।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages