चार स्थानों पर आग में जली लाखों की सम्पति - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, April 12, 2022

चार स्थानों पर आग में जली लाखों की सम्पति

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । जिले में सोमवार को चार स्थानों पर आग लगने से लाखों की संपत्ति राख हो गई। कई मवेशी झुलसे और पीडित परिजन दाने दाने को मोहताज हो गए। चंद्रगहना गांव में दो भाई के घर में अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। जिससे उनके घर व रखी गृहस्थी जल गई। इसी तरह से मानिकपुर विकास खंड में गढचपा गांव में तीन बीघे खेत में लगी फसल बिजली की शार्ट सर्किट के चलते जल गई। सकरोंहा गांव में भी दो कच्चे घरों में आग लग गई।

मुख्यालय से सटे चंद्रगहना गांव के नीलकमल व कुशल पुत्रगण भगवानदीन के कच्चे घर में दोपहर को आग लग गई। गृहस्वामी खलिहान फसल की मड़ाई कर रहे थे। इसी दौरान अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। जिससे घर में रखी पूरी तरह से गृहस्थी जल गई। दो भैसे भी आग लगने से झुलस गई हैं। मौके पर पहुंचकर फायर बिग्रेड की टीम व ग्रामीणों की मदद से आग बुझाई गई। इसके पहले पूरी तरह से घर व उसमें रखी गृहस्थी जल गई। इसी तरह से मानिकपुर क्षेत्र के गढ़चपा गांव में पोईलहा कुम्हार के खेत में बिजली के शार्ट सर्किट से आग लग गई। जिससे खेत में लगे तीन बीघे की फसल जल गई। एक लाख तक नुकसान हुआ है। मानिकपुर क्षेत्र के सकरौंहा गांव में मवेधी बांधने के लिए बड़े में आग लग गई। जिससे पीडित किसान हरिनारायण त्रिपाठी ने बताया कि करीब 60 हजार का नुकसान हुआ है। रैपुरा क्षेत्र के बगरेही निवासी शिवसागर व रामलखन के पशुबाडे में अज्ञात कारण के चलते आग लग गई। जिसमें चार मवेशी की जलने से मौत हो गई।

आग का मंजर।

जंगलों में उठ रहा धुआं

चित्रकूट। जंगलों में भी लगी आग अभी बुझने का नाम नहीं ले रही है। आग रानीपुर वन्य विहार के गिदुरहा, बरगढ़ क्षेत्र के जंगलों सहित भरतकूप के जंगलों में अभी भी धूआ उठते हुए देखा जा रहा है। यही हाल मानिकपुर के सीमा से लगे मझगवा के जंगल में भी है। जबकि वन विभाग के अधिकारियें का कहना कि जंगल में लगी आग पर काबू पा लिया गया है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages