डीएम के निरीक्षण में बच्चे नहीं सुना पाए राष्ट्रगान, प्रधानाध्यापिका निलंबित - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, April 12, 2022

डीएम के निरीक्षण में बच्चे नहीं सुना पाए राष्ट्रगान, प्रधानाध्यापिका निलंबित

डीएम ने किया विद्यालयां का औचक निरीक्षण

स्कूली बच्चों के साथ खाया एमडीएम का भोजन

बांदा, के एस दुबे । मंगलवार के जिलाधिकारी बांदा अनुराग पटेल द्वारा प्राथमिक विद्यालय पिपरगवां-2, क्षेत्र तिन्दवारी एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय (कम्पोजिट 01 से 08), क्षेत्र तिन्दवारी का औचक निरीक्षण किया गया। प्राथमिक विद्यालय पिपरगवां-2 के निरीक्षण के दौरान श्रीमती विनीता सिंह प्रधानाध्यापक एवं श्री प्रेम सिंह वर्मा, शिक्षामित्र उपस्थित मिले। जिलाधिकारी द्वारा छात्र-छात्राओं के उपस्थिति पंजीका का अवलोकन किया गया। स्कूल चलो अभियान के अन्तर्गत कक्षा-1 में 06 बच्चों का नया पंजीकरण किया गया जिसमें 05 बच्चें, कक्षा-2 में 21 बच्चों


के सापेक्ष 07, कक्षा-3 में 20 बच्चों के सापेक्ष 11 बच्चें, कक्षा-4 में 24 बच्चों के सापेक्ष 13 बच्चें एवं कक्षा-5 में 21 बच्चों के सापेक्ष 15 बच्चें उपस्थित मिले। जिलाधिकारी द्वारा एम0डी0एम0 रजिस्टर का अवलोकन किया गया। जिसमें 51 बच्चों का एम0डी0एम0 के तहत चावल सब्जी बनाई जा रही थी। जिलाधिकारी द्वारा बच्चों के साथ जमीन में बैठकर सब्जी चावल खाया गया। एम0डी0एम0 की गुणवत्ता ठीक पाई गई।इसी प्रकार उच्च प्राथमिक विद्यालय में कक्षा-8 में 36 बच्चों के सापेक्ष 16 बच्चें उपस्थित मिले। जिलाधिकारी द्वारा कक्षा-8 के बच्चों को लगभग डेढ़ घण्टे पढ़ाया। बच्चों से मिडडे-मिल व किताबें, जूते मोजे, व ड्रेस आदि तथा विभिन्न प्रकार की जानकारियॉ प्राप्त की गयी। विद्यालय में कक्षा-8 के बच्चों से 17 का पहाडा सुना गया, परन्तु 02 बच्चों को छोड़कर पहाड़ा नहीं सुना पाये। इसके

साथ हिन्दी पुस्तक के पहले अध्याय की कविता को सुना और लिखवाया गया। लेकिन शुद्ध हिन्दी से कविता नहीं लिख पाये। बच्चों से देश का राष्ट्रगान का नाम पूछा एवं सुना गया, परन्तु बच्चें राष्ट्रगान तक ठीक प्रकार से नहीं सुना पाये। जिलाधिकारी द्वारा बच्चों को हिन्दी विषय पढ़ाने की जानकारी करने पर इ0 प्रधानाध्यपक द्वारा बताया गया कि श्रीमती आशा सिंह, सहायक अध्यापक द्वारा पढ़ाया जाता है। जो वर्तमान में अवकाश पर है। जिलाधिकारी बच्चों को शुद्ध हिन्दी लिखना, बोलना और हिन्दी विषय का पठन पाठन अत्यन्त ही खराब पाये जाने पर श्रीमती आशा सिंह को निलम्बित करने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, बांदा को दिये गये।

 बच्चों को अग्रेजी विषय के प्रथम अध्याय की कविता का सुना, परन्तु बच्चों को प्रथम अध्याय की कविता तक नहीं सुना पाये। बच्चों को अग्रेजी वर्णमाला के कैपिटल एवं स्मॉल अक्षरों की जानकारी नहीं थी तथा जिलाधिकारी द्वारा गणित में 5 का भाग 19 में करने हेतु सवाल दिया गया, परन्तु बच्चें सवाल हल नहीं कर पाये। बच्चों को भाग कैसे हल करना है उसकी भी जानकारी नहीं थी। जिलाधिकारी द्वारा विद्यालय की गुणवत्ता अत्यन्त खराब पाये जाने पर श्री यासीन, इ0 प्रधानाध्यापक, श्रीमती प्रीती गुप्ता, सहायक अध्यापक एवं कविता देवी को कठोर चेतावनी निगर्त करने हेतु जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया तथा मौके पर उपस्थित अध्यापकगणों को निर्देशित किया गया कि 01 माह के अन्दर बच्चों को मानक के अनुसार पठन पाठन की गुणवत्ता में सुधार लाया जाये। अन्यथा कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages