घर में आग लगने से दो बहनों की जलकर मौत - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, April 25, 2022

घर में आग लगने से दो बहनों की जलकर मौत

हादसे में पांच बकरियां भी जिंदा जली 

ग्रामीणों ने मशक्कत कर बुझाई आग, परिवार में मचा कोहराम

अमौली/फतेहपुर, शमशाद खान । चांदपुर थाने के मवई मजरे अयोध्या का डेरा में सोमवार भोर दीपक से घर में आग लग गई। चारपाई में सो रही दो मासूम बहनें आग की चपेट में आ गईं। जिसमें एक मासूम की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरी बहन झुलस गई। जिसको परिजन इलाज के लिए कानपुर हैलट ले गए। जहां उसने भी दम तोड़ दिया। आग से पांच मवेशी भी जलकर मर गए। घटना के बाद परिवारीजनों के बीच कोहराम मच गया। पड़ोसी परिवारीजनों को ढाढंस बंधाते रहे। 

घटनास्थल पर जांच-पड़ताल करती पुलिस।

जानकारी के अनुसार मवई मजरे अयोध्या का डेरा निवासी राकेश निषाद सोमवार भोर पहर अपनी पत्नी भुलैया के साथ ठेके पर गेहूं की फसल काटने गया था। घर पर उसकी दो बेटियां एक वर्षीय बेटी स्वाती और पांच वर्षीय रागिनी चारपाई पर सो रही थीं। भोर पहर बिजली न होने से राकेश जलता दीपक रख गया था। उसके जाने के बाद दीपक चारपाई के पास गिर गया जिससे चारपाई में आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और कोठरी धू-धूकर जलने लगी। दरवाजे में बाहर से ताला लगा होने की वजह से ग्रामीण अंदर दाखिल नहीं हो पाए। जिससे दोनों बहनें जल गई और घटनास्थल पर ही स्वाति की मौत हो गई। ग्रामीणों ने किसी तरह कड़ी मशक्कत करके आग पर काबू पाया। तब तक स्वाती की मौत हो चुकी थी। गंभीर रूप से झुलसी रागिनी को परिजन आनन-फानन कानपुर हैलट अस्पताल ले गए। जहां कुछ ही देर बाद उसने भी दम तोड़ दिया। एक साथ दो बहनों के जिंदा जलने से परिवारीजनों के बीच कोहराम मच गया। माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल रहा। पड़ोसी दुखी मां-बाप को ढाढंस बंधाते रहे। इस अग्निकांड में पांच बकरियां भी जिंदा जल गईं हैं। पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages