बटाईदार की गर्दन पर कुल्हाड़ी से वार कर निर्मम हत्या - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, April 7, 2022

बटाईदार की गर्दन पर कुल्हाड़ी से वार कर निर्मम हत्या

पूर्व जिला पंचायत सदस्य के भतीजे ने अंजाम दी सनसनी खेज घटना 

हत्यारोपी को पुलिस ने हिरासत में लिया, आला कत्ल बरामद 

बांदा, के एस दुबे । जसपुरा थाना क्षेत्र के सिकहुला गांव में पूर्व जिला पंचायत सदस्य के भतीजे ने अपने बटाईदार वृद्ध की गर्दन पर वार कर निर्मम हत्या कर दी। हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद शव को लोहे के पटले में लाइनोन की रस्सी से बांधकर समीप ही तालाब में फेंक दिया। तालाब में पानी कम था, इसलिए हत्यारोपी ने तालाब में अपने ट्यूबवेल से पानी भी भर दिया। गुरुवार को शव पानी में उतराता ग्रामीणों ने देखा तो हड़कंप मच गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के साथ ही हत्यारोपी को हिरासत में ले लिया। पूछतांछ की जा रही है। आला कत्ल भी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है। 

घटनास्थल पर मौजूद पुलिस

मिली जानकारी के अनुसार जसपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम सिकहुला निवासी दर्शन कुशवाहा (70) गांव में रहने वाले पूर्व जिला पंचायत संदस्य मुन्ना पाल के बोर की रखवाली करता था। उसने पूर्व जिला पंचायत सदस्य के भतीजे अरूण के डेढ़ बीघा खेत भी बटाई में लिए थे। मंगलवार रात दर्शन खेत जा रहा था। तभी रास्ते में खेत मालिक अरूण मिल गया और उसे बोर की चाबी दी। दर्शन बोर जाने के लिए चल पड़ा। जैसे ही वह बोर के नजदीक पहुंचा ही था कि पीछे से खेत मालिक अरुण वहां पहुंच गया और कुल्हाड़ी से दर्शन की गर्दन पर वार कर हत्या कर दी। हत्या को अंजाम देने के बाद अरुण ने शव को लोहे के पटले में बांधा और तालाब में फेंक दिया। दर्शन के घर न पहुंचने पर नाती सत्यवीर और परिजन लगातार खोजबीन में डटे रहे। लेकिन कहीं कुछ पता नहीं चल सका। गुरुवार को थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई गई। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने भी तलाश शुरू कर दी। नाती सत्यवीर बाबा की खोजबीन करने के लिए खेत और बोर गए। पास में ही बने तालाब में देखा तो दर्शन का शव पानी में उतरा रहा था। शव देखते ही परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पानी से बाहर निकलवाया और कब्जे में ले लिया। इधर, हत्यारोपी जिला पंचायत सदस्य के भतीजे अरुण को गिरफ्तार कर लिया है। नाती ने अरुण पाल के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। नाती सत्यवीर ने बताया कि पिछले कई दिनों से हत्यारोपी अरुण बाबा दर्शन को बोर में नहीं रहने दे रहा था। बार-बार चाबी ले लेता था। घटना की रात गांव के ज्वालामुखी मंदिर में डीजे बजने के साथ संगीत का कार्यक्रम था। जहां हत्यारोपित ने शराब के नशे में पहले बोर की चाबी मंदिर परिसर में फेंक दी थी। बाद में उसने खुद चाबी उठाकर उनके बाबा को दी थी। बाबा जब चाबी लेकर बोर में गए हैं। पीछे से पहुंचे अरूण ने कुल्हाड़ी से उनका गला काटकर हत्या कर दी। इधर, पुलिस ने आला कत्ल बरामद कर लिया है। हत्या की खबर पाकर सीओ आनंद कुमार, जसपुरा थाना प्रभारी राजेश कुमार, पैलानी पुलिस, चिल्ला और तिंदवारी पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंच गई। सीओ का कहना है कि मामले की पड़ताल की जा रही है। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages