गर्मी दिनों में होती है तालाबों की अतिआवश्यकताः ओममणि वर्मा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, April 22, 2022

गर्मी दिनों में होती है तालाबों की अतिआवश्यकताः ओममणि वर्मा

विश्वपृथ्वी दिवस पर जिले में 75 तालाबों व तीन नदियों में चला सफाई अभियान

जिलाधिकारी सहित जनप्रतिनिधियों ने किया श्रमदान

बांदा, के एस दुबे । महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण गारण्टी अधिनियम के अन्तर्गत आज विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर जनपद के 75 तालाबों एवं 03 नदियों (गहरार, चन्द्रावल, गडरा) की सफाई, खुदाई का कार्य जल संचयन हेतु एक अभियान के रूप में प्रारम्भ किया गया है । आज जनपद के सभी 75 तालाबो व 03 नदियों में जनपद के एक-एक अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि द्वारा सफाई व ख्ुदाई का कार्य किया गया है। जिसके क्रम में विकास खण्ड नरैनी की ग्राम पंचायत बिल्हरका की गहरार नदी में अनुराग पटेल, जिलाधिकारी के साथ विधायक नरैनी श्रीमती ओममणि वर्मा, ब्लाक प्रमुख विकास खण्ड नरैनी मनफूल पटेल, वेद प्रकाश मौर्य मुख्य विकास अधिकारी, राघवेन्द्र तिवारी, उपायुक्त मनरेगा, प्रकाश प्रसाद, खण्ड विकास अधिकारी, नरैनी, प्रमोद मिश्रा, सहायक अभियन्ता, लघु सिचाई व 05 ग्राम पंचायत व 09 मजरो से ग्रामीण एवं मनरेगा के लगभग 250 मजदूरो द्वारा गहरार नदी की खुदाई/सफाई की गई और सिर पर डलिया में मिट्टी लेकर भीठे पर डाली गई। गहरार नदी मध्य प्रदेश के जनपद पन्ना से निकली है जिसकी लम्बाई लगभग 21 किमी0 है। यह नदी वर्तमान में सूख चुकी है जिसकी खुदाई कर पुर्नजीवित किये जाने का कार्य किया जा रहा है। उक्त कार्यकम में विधायक नरैनी श्रीमती ओममणि वर्मा ने कहा कि गर्मी के मौसम में पशुओं, पक्षियों एवं जनता के लिए पानी ज्यादा समस्या रहती है, जिसके निदान हेतु तालाब, नदी, पोखरों आदि की खुदाई का कार्य कर उन्हे पुर्नजीवित किये जाने की मुहिम जिलाधिकारी द्वारा चलायी जा रही है जिसमें ग्रामवासियों की जन सहभागिता एवं जिलाधिकारी द्वारा चलायी गयी पहल अत्यन्त सराहनीय है।


  इसी प्रकार जिलाधिकारी अनुराग पटेल द्वारा विकास खण्ड बडोखर खुर्द के ग्राम पंचायत मटौंध ग्रामीण में मरौली तालाब/झील (परमापुरवा) में ब्लाक प्रमुख स्वर्ण सिंह सोनू के साथ विधि-विधान पूजन कर तालाब/झील की खुदाई की गई तथा श्रमदान कर सर में डलिया रख तालाब के भीटा तक लाकर मिट्टी डाली गई। उक्त तालाब/झील लगभग 122 बीघा की है। जिलाधिकारी बॉंदा के साथ वेदप्रकाश मौर्य मुख्य विकास अधिकारी बॉंदा, राघुवेन्द्र तिवारी, उपायुक्त मनरेगा, अजय कुमार पाण्डेय, खण्ड विकास अधिकारी, बडोखरखुर्द, पुष्पक, तहसीलदार बांदा, प्रमोद मिश्रा, सहायक अभियन्ता, लघु सिचाई व आस-पास ग्राम पंचायतों के प्रधान व ग्रामवासियों ने भी स्वेच्छा पूर्वक श्रमदान किया एवं मनरेगा के लगभग-300 मजदूरो द्वारा खुदाई की गई है।  जिलाधिकारी बॉंदा ने ‘‘जल संचय-जीवन संचय’’ अभियान के अन्तर्गत आज विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर तथा आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के अन्तर्गत प्रधानमंत्री ने कहा है कि संसदीय क्षेत्रों में अमृत सरोवर बनाये जायें। उन्ही से प्रेरणा लेकर आज जनपद के 75 तालाबों को अमृत सरोवर बनाने का प्रयास किया गया है। उन्होंने सभी को अभियान के सहयोग के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि जैसे कि सभी जानते हैं कि बुन्देलखण्ड में गर्मी के मौसम में पानी की समस्या रहती है इसलिए सभी को जल संचयन की ज्यादा आवश्यकता है। यदि तालाब, पोखर, नदियों में पर्याप्त जल होगा तो पृथ्वी पर नमी बनी रहेगी और पानी की समस्या से निजात मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि मा0 प्रधानमंत्री जी द्वारा जल शक्ति मंत्रालय की स्थापना इसी उद्देश्य से की गयी है कि खेत का पानी खेत पर रहे ताकि सिंचाई की समस्या का निदान हो सके, क्योंकि भूमिगत जल स्तर में लगातार गिरावट हो रही जो चिंता का विषय है। जिलाधिकारी ने कहा कि मा0 प्रधानमंत्री जी द्वारा चलायी गयी योजना से प्रेरणा लेकर पूरे जनपद में तालाब एवं नदियों की सफाई का कार्य प्रारम्भ कराया गया है ताकि वर्षा का पानी संचयन कर तालाबों, नदियों में बराबर जल भराव बना रहे तथा गर्मी के मौसम में किसी के लिए भी पानी की समस्या न हो। उन्होंने कहा कि बडी नदियां आज छोटे नालों का रूप ले रही हैं इसलिए हम सभी को मिलकर उनकी साफ-सफाई कर नदियों को फिर पुराने स्वरूप में लाना है, जिसमें सभी के सहयोग की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि श्रमदान बहुत बडा दान है जिससे बडी से बडी सफलता हासिल की जा सकती है। मरौली झील की खुदाई एवं सफाई का कार्य कर पुराने स्वरूप में लाना है ताकि लोग इस झील पर भ्रमण कर आनन्द उठा सके तथा पशुओं-पक्षियों के लिए जल बिहार की सुविधा हो सकेगी तथा भूमिगत जल स्तर में भी सुधार हो सकेगा और जनपद हमारा पानीदार बन सकेगा।

 


ब्लाक प्रमुख स्वर्ण सिंह सोनू ने कहा कि बडे ही सौभाग्य की बात है जो कि हमारे जनपद को ऐसे कर्मठ, मेहनती जिलाधिकारी मिले हैं जो लगातार शासन की योजनाओं को धरातल पर गरीब तबके के व्यक्तियों को अभियान चलाकर अच्छादित कराने का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पहले स्वयं श्रमदान करते हैं इसके बाद अपने अधिकारियों से करवाते हैं। उन्होंने जिला प्रसाशन की समस्त टीम को बधाई दिया और  कहा कि खेत-तालाब योजना के अन्तर्गत आज तालाब खुदवाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमारे यशस्वी मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने खेत तालाब योजना का शुभारम्भ किया था जिससे प्रदेश के समस्त किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए हमेशा से प्रयास करती आ रही है हमारी सरकार। उन्होंने कहा कि जो कृषक भाई खेत-तालाब योजना के अन्तर्गत अपने खेतों के आस-पास तालाब बनाकर रहेंगे उन्हें राज्य सरकार की ओर से अनुदान प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि इस योजना  की शुरूआत करने का मुख्य उद्देश्य है कि वर्षा का पानी जमा कर किसानों की खेती में सिचांई की मात्रा को बढावा देना। इससे किसानों को दोनो तरफ से लाभ प्राप्त होगा।

जल शक्ति राज्य मंत्री श्री रामेकश निषाद की गरिमामायी उपस्थिति में जनपद के विकास खण्ड जसपुरा की 03 ग्राम पंचायतों में प्रवाहित होने वाली जीवनदायिनी चन्द्रावल नदी के पुर्नजीवित करने के कार्य का शुभारम्भ मा0 मंत्री जी द्वारा नदी पूजन करने के पश्चात फावडा चलाकर खुदाई करते हुये किया गया । इस नदी की जनपद बॉंदा में लम्बाई 19.08 किमी0 है। मौके पर श्री राघवेन्द्र तिवारी, उपायुक्त मनेरगा, श्री प्रकाश प्रसाद, खण्ड विकास अधिकारी,जसपुरा, क्षेत्र पंचायत जसपुरा प्रमुख प्रतिनिधि महेश, जिला पंचायत सदस्य श्री श्वेता गौर एवं श्री गयाप्रसाद, ग्राम प्रधान गडारिया, श्रीमती लीला निषाद, ग्राम प्रधान जसपुरा अन्य आस-पास के  ग्राम पंचायतों के निवासीगण उपस्थित थे। इस कार्य में आज ग्राम गडरिया के लगभग-100 महिला पुरूष श्रमिक उपस्थित थे। इस अवसर पर मा0 मंत्री जी द्वारा भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार की जल संचयन सम्बन्धी योजनाओ की चर्चा करते हुये जिलाधिकारी श्री अनुराग पटेल की पहल की तरीफ की एवं यह विश्वास व्यक्त किया कि उनकी टीम ईमानदारी से काम करते हुये शासन के इस प्राथमिकता वाले कार्यक्रम को समय से पूरा करने में पूरा प्रयास करेगी।

जनपद के विकास खण्ड महुआ की 11 ग्राम पंचायत में श्रीमती ओममणि वर्मा विधायक नरैनी की उपस्थिति में गडरा नदी की सफाई का काम प्रारम्भ किया गया। इस अवसर पर खण्ड विकास अधिकारी श्री संजीव कुमार बघेल, जिला आबकारी अधिकारी संतोष कुमार एवं  क्षेत्र के गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे तथा भारी संख्या में 644 श्रमिको के द्वारा कार्य किया गया ।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages