कालिंदी का चीरहरण कर रहे खनन कारोबारी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, April 23, 2022

कालिंदी का चीरहरण कर रहे खनन कारोबारी

बुंदेलखंड राष्ट्र समिति व गंगा समग्र के स्वयंसेवक पहुंचे संगोलीपुर मड़इयन खदान

गुरवल मोरंग खदान में भी सारे नियम कायदे कानून को ताक पर रखकर किया जा रहा खनन

खागा/फतेहपुर, शमशाद खान । विश्व पृथ्वी दिवस पर प्रबुद्धजनों ने धरती मां को किस तरह स्वस्थ रखा जाए, इस बारे में गंभीर चिंतन किया। दिन, समय और तारीख कुछ भी नहीं बदला था। दोपहर में किशुनपुर थाने के संगोलीपुर मड़इयन खदान व गुरवल में मौरंग निकालने के चक्कर में जिस प्रकार से खनन कारोबारियों ने यमुना मइया के साथ किया, उसे देखकर बुंदेलखंड राष्ट्र समिति व गंगा समग्र के स्वयंसेवक दंग रह गए। गंगा समग्र के अजमेर सिंह व बुंदेलखंड राष्ट्र समिति के केंद्रीय अध्यक्ष प्रवीण पांडेय, अवधेश मिश्र, राम प्रकाश आदि लोगों ने कालिंदी का जो दर्शन किया, वह दिल को ठेंस पहुंचाने वाला था। 

कालिंदी का चीरहरण करती पोकलैंड मशीन।

केंद्रीय अध्यक्ष ने बताया कि करोड़ों की कमाई के चक्कर में मौरंग कारोबारियों ने आधे से अधिक जलधारा को पाटकर रास्ता बना डाला है। चारों ओर गहरे-गहरे गड्ढे बनाकर यमुना तटवर्ती गांवों को बाढ़ की विभीषिका में झोंकने की पूरी तैयारी कर ली है। प्रशासनिक अनदेखी के बारे में केंद्रीय अध्यक्ष ने बताया कि कभी-कभार ही जिम्मेदार अधिकारी वहां पहुंचते हैं। आशंका जाहिर की गई, यदि अधिकारियों ने घाट किनारे आकर देखा होता तो यमुना नदी का यह स्वरूप न होता। केंद्रीय अध्यक्ष ने दावा किया कि यमुना की अधिकांश धारा टुकड़ों में बदल चुकी है। बांदा जनपद से सटे जल क्षेत्र में पट्टाधारक हैवी बूम वाली मशीनों से मौरंग खनन कर रहा है। खनन क्षेत्र का वीडियो तैयार करके स्वयंसेवक वापस लौट आए हैं। इनका कहना था कि कालिंदी के साथ हो अत्याचार के बारे में जिला प्रशासन के अधिकारियों को अवगत कराएंगे। मौके से ही मुख्यमंत्री कार्यालय को वीडियो भेजकर स्वयंसेवकों ने खनन के नाम पर लूट करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages