पांच घंटे में पुलिस ने आरोपी को दबोचा, हत्या का किया खुलासा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, April 6, 2022

पांच घंटे में पुलिस ने आरोपी को दबोचा, हत्या का किया खुलासा

हत्यारे को देनी थी दुकानदार की उधारी, इसीलिए खींचे थे 500 रुपए 

बांदा, के एस दुबे । किशोर की हत्या के मामले का पुलिस ने महज पांच घंटे में पटाक्षेप कर दिया। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। हत्यारोपी ने बताया कि उसे एक दुकानदार का कुछ रुपया देना था। उसने संदीप को रुपया लिए देखा तो छीन लिया, संदीप ने इसका विरोध किया तो उसकी गर्दन दबा दी, जिससे उसकी मौत हो गई। 

घटना का खुलासा करते अपर पुलिस अधीक्षक लक्ष्मी निवास मिश्र

मटौंध थाना क्षेत्र के बैबे थोक निवासी संदीप (13) पुत्र मूलचंद्र कुशवाहा मंगलवार की शाम सामान लेने दुकान गया था। वहीं पर मोमोज के ठेले में पड़ोसी धीरू उर्फ टोटू पुत्र कामता खड़ा हुआ था। संदीप के हाथ में 500 का नोट देख धीरू की नीयत बदल गई। धीरू उसे मोमोज खिलाने के बाद घुमाने टहलाने के लिए दूर तक ले गया। उसकी जेब में पड़े 500 रुपए छीन लिए। संदीप ने इसका विरोध किया। इस पर धीरू ने संदीप की गला घोंटकर हत्या कर दी और शव को जीआईसी के समीप स्थित पुलिया के पास फेंककर फरार हो गया। सुबह शव मिलने के बाद मौके पर पहुंची एसओजी ने सुरागरसी करना शुरू कर दी। लोगों ने बताया कि धीरू के पास संदीप खड़ा हुआ था। पुलिस ने गहनता से जांच पड़ताल शुरू कर दी। घटना के पांच घंटे बाद ही पुलिस ने हत्या का खुलासा कर दिया और धीरू को धर दबोचा। धीरू ने बताया कि उसे मोमोज दुकानदार को 350 रुपए उधारी चुकानी थी। इसके लिए उसने संदीप से 500 रुपए छीन लिए। विरोध करने पर गला घोंटकर हत्या कर दी। अपर पुलिस अधीक्षक लक्ष्मी निवास मिश्र ने मीडिया से रूबरू होते हुए मामले का खुलासा किया। पुलिस टीम में एसओजी प्रभारी मयंक चंदेल, प्रभारी निरीक्षक मटौंध अरविंद सिंह गौड़, आशीष कुमार, रामनारायण मिश्र, सत्यम गुर्जर, अश्विनी, भूपेंद्र, गजेंद्र, रमाकांत आदि शामिल रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages