विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के प्रथम चरण का शुभारंभ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, April 2, 2022

विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के प्रथम चरण का शुभारंभ

अभियान को सफल बनाने में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाएं अधिकारी : डीएम 

फतेहपुर, शमशाद खान । दो अप्रैल से तीस अप्रैल तक चलने वाले विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान एवं 15 से 30 अप्रैल तक दस्तक अभियान के प्रथम चरण का नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पक्का तालाब में गुब्बारे उड़ाकर व हरी झंडी दिखाकर जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे ने शुभारंभ किया। 

प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करतीं डीएम अपूर्वा दुबे।

अभियान का शुभारंभ करने के पश्चात डीएम ने कहा कि अभियान के लिए नामित विभाग आपस में समन्वय बनाकर विभागों के कार्यों को जिम्मेदारी से निर्वहन करके अभियान को सफल बनाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। साथ ही जन सामान्य को जागरूक भी करे। साफ-सफाई के प्रति नागरिकों को विशेष रूप से जागरूक करें। अभियान के कार्या की सप्ताहिक समीक्षा खंड विकास अधिकारी, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी करें। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए कि अभियान के कार्यों की प्रतिदिन की रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। आशा-आंगनबाड़ी कार्यकत्री आपसी सहयोग के साथ अभियान के तहत घर-घर जाकर लोगों को जागरूक करे। उन्होने शपथ दिलाई कि दिमागी बुखार से इस लड़ाई में हरसंभव प्रयास करेंगे कि हमारे परिवार और समुदाय में कोई भी बच्चा दिमागी बुखार का शिकार न हो। हम शौच के लिए शौचालय का प्रयोग करेंगे और सभी को यही करने के लिए प्रेरित करेंगे। हम अपने व्यक्तिगत साफ सफाई का ध्यान रखेंगे ,अपने घर के आसपास साफ- सफाई का ध्यान रखेंगे, अपने गांव के वातावरण को स्वच्छ रखेंगे तथा समुदायों को साफ सफाई एवं स्वच्छता अपनाने के लिए प्रेरित करेंगे। यदि कोई बच्चा हमारे गांव में बुखार से पीड़ित होगा उसके परिवार को तुरंत इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में ले जाने हेतु प्रेरित करेंगे। उन्होंने बताया कि 02 अप्रैल से 30 अप्रैल तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह चलेगा जबकि 15 अप्रैल से 30 अप्रैल तक दस्तक पखवाड़ा आयोजित होगा। सीएमओ ने बताया कि 15 अप्रैल से शुरू हो रहे दस्तक पखवाड़े के दौरान अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ता घर-घर जाएंगी और बुखार के रोगियों की सूची तैयार करेंगी। कुपोषित बच्चों का चिन्हीकरण एवं लाइन लिस्टिंग किया जाएगा। कोविड के रोगियों की भी लाइन लिस्टिंग होगी। घर-घर क्षय रोग के लक्षणों वाले रोगियों का चिन्हीकरण होगा। क्षेत्रवार ऐसे मकानों की सूची तैयार होगी जहां मच्छरों का प्रजनन अधिक पाया गया हो। इस प्रकार चिन्हित रोगियों को निःशुल्क इलाज की सुविधा दी जाएगी जबकि मच्छरों के नियंत्रण के प्रभावी उपाय किए जाएंगे। इस मौके पर प्रशिक्षु आईएएस जिला पंचायत राज अधिकारी निधि बंसल, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 राजेन्द्र सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, अधिशासी अधिकारी मीरा सिंह एवं अन्य स्वास्थ्य विभाग अधिकारी व आशा, आंगनबाड़ी कार्यकत्री सहित अन्य संबंधितगण उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages