संवाद कार्यशाला में नामांकन वृद्धि पर हुई चर्चा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, April 24, 2022

संवाद कार्यशाला में नामांकन वृद्धि पर हुई चर्चा

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ किया आयोजन 

जिला कोषाध्यक्ष पद पर मनोनीत किए गए रामसुफल 

बांदा, के एस दुबे । उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ शाखा के तत्वाधान में शिक्षकों की समस्याएं व उनका समाधान तथा स्कूल चलो अभियान के अंतर्गत नामांकन में वृद्धि पर परिचर्चा के लिए सभी ब्लाक के अध्यक्ष, मंत्री व जनपदीय पदाधिकारियों की संवाद कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें नामांकन वृद्धि पर चर्चा करने के साथ ही अन्य मुद्दों पर भी बातचीत की गई। 

संवाद कार्यशाला को संबोधित करते अध्यक्ष

बैठक की शुरुआत में संघ के कोषाध्यक्ष बैजनाथ का आकस्मिक  देहावसान हो जाने की वजह से रिक्त हुए पद के सापेक्ष जिला कोषाध्यक्ष पद के लिए रामसुफल कश्यप तिंदवारी का नाम संगठन के संयुक्त मंत्री जय किशोर दीक्षित  ने प्रस्तावित किया जिसका समर्थन वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमाशंकर यादव ने  किया तथा उपस्थित संयुक्त कार्यसमिति के  समस्त पदाधिकारियों ने एक स्वर से रामसुफल कश्यप को जिला कोषाध्यक्ष के पद पर मनोनीत किया। साथ ही विवेक यादव बबेरू व जोगेन्दर सिंह बबेरु को जिला कार्यसमिति के विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में सम्मलित किया गया। बैठक में  बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षकों को कैशलेश चिकित्सा की घोषणा करने हेतु आदरणीय मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया गया। उत्तरप्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डा. दिनेश चन्द्र शर्मा के नेतृत्व में लंबे समय से यह मांग सरकार से की जा रही थी, साथ ही यह भी उम्मीद है कि मुख्यमंत्री द्वारा पुरानी पेंशन भी शिक्षको कों  अवश्य प्रदान की जाएगी।

मौजूद संघ पदाधिकारीगण

शिक्षक समस्याओं पर चर्चा करते हुए जिला मंत्री प्रजीत सिंह ने कहा कि नव नियुक्त शिक्षको के अवशेष सूची अध्यवधि तक नही  निकल पाई  व पदोन्नति की प्रक्रिया अवरुद्ध है जिसे शीघ्र गतिमान करना आवश्यक है।जिलाध्यक्ष आशुतोष त्रिपाठी ने कहा कि उच्चाधिकारियों द्वारा निरीक्षण के समय विद्यालय में छात्र छत्राओ व अभिभावकों के समक्ष ही शिक्षको को अपमानित किया जाता है ।गलतियां हो सकती है ,कमियां हो सकती है किंतु जिन बच्चों को नित उस शिक्षक को पढ़ाना है उनके सामने सार्बजनिक रूप उनके शिक्षक को अपमानित करना न  न्यायसंगत है  और न ही उसमें प्रगति संवर्धन सम्भव है।।ऐसा करने से  वह शिक्षक वहां फिर उन बच्चों के सामने पूर्ण मनोयोग से  नही पढ़ा पायेगा ।।कमी ,गलतियां मिलने पर अलग से बात कही जा सकती है और कार्यवाहियां तो हो ही रही है।आज भी जनपद के लगभग 300 विद्यालयो में  चहारदीवारी नही हैऔर  प्रशासन को ऐसी समस्याओ  को भी समझना चाहिए। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी रामपाल सिंह ने बताया की सत्र 2021 -22 में जनपद बाँदा का कुल छात्र नामांकन 220439  था और विभाग द्वारा सत्र 2022- 23  में जनपद बाँदा का छात्र नामांकन लक्ष्य 266994 रखा गया है किसी भी मजरे, पुरवा, गाँव में कोई भी 6 से 14 वर्ष का बच्चा ऐसा शेष न हो जो नामांकित  न हो।शिक्षा देने की तरह शिक्षा हेतु प्रेरित करना भी पुण्य का ही कार्य है।हम सभी को अपने अधिकारों के साथ साथ कर्तव्यों के प्रति भी जागरूक रहना चाहिए।शिक्षको की जो भी समस्याये उत्तरप्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा बताई गई सदैव सभी के निस्तारण का प्रयाश किया गया और आगे भी  प्राथमिकता के आधार पर किया जाता रहेगा। नव नियुक्त शिक्षको के अवशेष सूची शीघ्र ही जारी कराई जाएगी व पदोन्नति की प्रक्रिया में भी तेजी लाई जाएगी। संयुक्त मंत्री जय किशोर दीक्षित ने कहा कि ऐसे संवाद कार्यशालाओं का आयोजन होते रहना चाहिए। जनपद में संगठन द्वारा सभी ब्लाक में 2022 का सदस्यता अभियान चलाया जाएगा व शीघ्र ब्लाक के निर्वाचन भी कराए जाएंगे। रमाशंकर यादव ने सभी से नामंकन लक्ष्य प्राप्त करने का आवाहन किया। सभी का आभार व्यक्त किया। संरक्षक सुघर सिंह, मौलाना नसीम मोहम्मद सहित बैठक में सभी ब्लाक के अध्यक्ष मंत्री, वरिष्ठ उपाध्यक्ष, कोषाध्यक्ष, संयुक्त मंत्री सहित समस्त जनपदीय पदाधिकारी  उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages