पारा 46 पार, लू के थपेड़ों से बिलबिलाए लोग - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, April 19, 2022

पारा 46 पार, लू के थपेड़ों से बिलबिलाए लोग

ठंडे पेय पदार्थों की बिक्री में इजाफा 

शरीर को ढक कर ही बाहर निकल रहे लोग 

फतेहपुर, शमशाद खान । मंगलवार को पारा 46 डि.से. के पार हो गया। पारा बढ़ने व लू के थपेड़े चलने से लोग बिलबिला उठे। गर्मी के कारण दिन भर लोग पसीना-पसीना रहे। सड़कों पर निकलने वाले लोग ठंडे पेय पदार्थों का सहारा लेते नजर आए। जिससे इनकी बिक्री में इजाफा हो गया। सड़क पर निकलने वाले लोग अपने शरीर को ढक कर ही बाहर निकल रहे हैं। जिससे धूप के साथ-साथ लू के थपेड़ों से बचा जा सके। प्रतिदिन की अपेक्षा आज मार्गों पर सन्नाटा अधिक रहा। 

धूप से बचने के लिए मुंह में स्टाल लगाए युवतियां।

मार्च के अंतिम सप्ताह के शुरूआत में ही गर्मी ने अपना रूप दिखाना शुरू कर दिया था। अप्रैल माह शुरू होते ही गर्मी अपने पूरे शबाब पर पहुंच गई है। जैसे-जैसे अप्रैल माह के दिन आगे बढ़ रहे हैं वैसे-वैसे तापमान में भी बढ़ोत्तरी हो रही है। तीन दिनों से तापमान लगभग 44 से 45 डिसे. चल रहा था लेकिन आज तापमान में इजाफा हुआ और पारा 46 के पार हो गया। सुबह से ही निकली चिलचिलाती धूप व लू के थपेड़ों ने लोगों को बेहाल कर दिया। पूरे दिन लोग पसीने से तरबतर रहे। प्रतिदिन की अपेक्षा मार्गों पर सन्नाटा अधिक नजर आया। जरूरी कामों से निकलने वाले लोग अपने शरीर को ढक कर ही बाहर निकले। सड़कों पर लोगों को ठंडे पेय पदार्थों का सेवन करते हुए देखा गया। जिससे पेय पदार्थों की बिक्री एकाएक बढ़ गई। उधर बाजार में सन्नाटा होने से व्यापारियों के माथे पर चिंता की लकीरें भी दिखाई दी क्योंकि इन दिनों ईद के साथ-साथ विवाह की सहालग चल रही है। इसके बावजूद बाजार में अधिक मात्रा में खरीददारों के न पहुंचने से व्यापारी चिंतित हैं। बाजार में गर्मी से बचाव वाले संसाधनों की मांग इतनी बढ़ गई है कि व्यापारी उसे पूरा नहीं कर पा रहे हैं। कूलर के दामों में बढ़ोत्तरी होने से लोगों को अपनी जेबे ढीली करनी पड़ रही है। गर्मी का प्रकोप रेलवे स्टेशन के साथ-साथ रोडवेज बस स्टाप परिसर में भी देखने को मिला। जहां यात्रियों के पहुंचते ही सबसे पहले उन्होने पानी की बोतल खरीदने का काम किया। बच्चों के साथ सफर करने वाले यात्रियों को इस भीषण गर्मी में सबसे अधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ा। गर्मी का यह प्रकोप अभी थमने वाला नहीं है। जैसे-जैसे अप्रैल समाप्ति की ओर जाएगा तापमान और बढ़ने की संभावनाएं जताई जा रही हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages