ज्वालागंज चौराहे से साइबर ठग को पुलिस ने दबोचा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, March 24, 2022

ज्वालागंज चौराहे से साइबर ठग को पुलिस ने दबोचा

29 एटीएम कार्ड, दो पैन कार्ड, वोटर आईडी समेत पांच मोबाइल बरामद

फतेहपुर, शमशाद खान । शहर के अति व्यस्ततम ज्वालागंज चौराहे पर लगे एक बैंक के एटीएम के बाहर खड़े साइबर ठग को मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने दबोच लिया। जिसके पास से विभिन्न बैंकों के 29 एटीएम कार्ड, दो पैन कार्ड, वोटर आईडी, पांच विभिन्न कंपनियों के मोबाइल समेत तमंचा व कारतूस बरामद किया है। पकड़ा गया साइबर ठग कार्ड धारकांं के साथ धोखाधड़ी कर पैसा निकालने का काम करता था। पकड़े गए साइबर ठग के खिलाफ जिले सहित पड़ोसी जनपद रायबरेली, उन्नाव व अमेठी में विभिन्न मुकदमें दर्ज हैं। पुलिस ने उसके खिलाफ सुसंगत धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर न्यायालय भेज दिया। 

पुलिस टीम की गिरफ्त में साइबर ठग व बरामद सामग्री।

जानकारी के अनुसार कोतवाली के वरिष्ठ उपनिरीक्षक प्रभुनाथ यादव अपने हमराही उपनिरीक्षक प्रवीण कुमार दुबे, कांस्टेबल शारदा प्रसाद शुक्ल व कांस्टेबल अरवेंद्र त्रिपाठी, धर्मेंद्र सिंह, नीरज चौरसिया, महिला कांस्टेबल चंचल, रिंकी जादौन के साथ संदिग्ध व्यक्ति व वाहन चेकिंग कर रहे थे। तभी मुखबिर ने सूचना दिया कि ज्वालागंज चौराहे के समीप एचडीएफसी के एटीएम के पास एक व्यक्ति काफी देर से खड़ा है जो साइबर ठग है। मुखबिर की सूचना मिलते ही पुलिस बल मौके पर पहुंचा और एटीएम के पास खड़ा व्यक्ति पुलिस को अपनी ओर आता देख बांदा-सागर रोड की तरफ भागा। पुलिस ने पीछा कर उसके पकड़ गया। पकड़े गए व्यक्ति ने अपना नाम वकास अहमद उर्फ वकास कुरैशी पुत्र इसरार अहमद निवासी चिकवाही मंडी अलीनगर कस्बा व थाना लालगंज जनपद रायबरेली बताया। साइबर ठग वकास के पास से पुलिस ने कई एटीएम, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, कई मोबाइल व तमंचा-कारतूस बरामद किया है। पकड़े गए ठग से जब पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसके साथ जीशान पुत्र अबुबकर व शहबान पुत्र अज्ञात निवासीगण बाबूगंज थाना लालगंज जनपद प्रतापगढ़ भी शामिल हैं। वह लोग एटीएम में उपभोक्ताआें के कार्ड बदलकर हेरा-फेरी करते हैं और उन पैसों से शापिंग कर लेते हैं। फरार अभियुक्तों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। पुलिस ने पकड़े गए साइबर ठग के खिलाफ कार्रवाई करते हुए न्यायालय भेज दिया। 

 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages